पेट की बीमारी से पीड़ित हैं तो जरूर खाएं गुड़, सर्दियों की हर बीमारी दूर करने की है रामबाण औषधि

कोहरे की चादर हर रोज सुबह दिखाई देने लगी है। तापमान का गिरना भी शुरू हो गया है। ठंड का मौसम सेहत के लिए जितना अच्छा होता है उतना ही इसमें बचाव की जरूरत होती है। ऐसे में इस मौसम में खुद का ध्यान रखने के लिए खास चीजें भी खाने के लिए मौजूद रहती है।

आयुर्वेद हमेशा इस बात को तरजीह देता है कि आप अपना खानपान मौसम के हिसाब से करेंगे तो आपको मौसम की मार नहीं झेलनी पड़ेगी। ठंड से बचने और सेहत को बेहतर बनाने के लिए खाने में गुड़ की भूमिका बहुत खास है, बेशक स्वाद में यह मीठा भी है और इसके एक नहीं कई फायदे भी हैं।

गुड़ की तासीर गर्म होती है, इसे खाने से आप खुद को कोल्ड होने से बचा सकते हैं। अगर आपको जुकाम होने के साथ कफ की समस्या हो गई है तो इसे खाना नहीं भूलें। ठंड के शुरू होते ही अगर आपको जोड़ों में दर्द की शिकायत रहती है तो आप रोजाना गुड़ को डाइट में शामिल करें।

गुड़ में कैल्शियम, फास्फोरस पाये जाते हैं। जिसकी वजह से यह गले की खराश और फेफड़ों के संक्रमण के इलाज में फायदा होता है। गुड़ को अदरक के साथ गर्म करके खाने से गले की खराश दूर होती है। इसकी चाय भी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती है।

पोटेशियम का एक अच्छा स्रोत होने की वजह से गुड़ खाने वालों को ब्लडप्रेशर की शिकायत भी कम रहती है। जो लोग ब्लडप्रेशन के मरीज हैं वो सर्दियों में इसे खाकर अपनी सेहत का खास ख्याल रख सकते हैं। गुड़ के अंदर मैग्नीशियम की प्रचुर मात्रा होती है, इसकी वजह से यह हमारे शरीर में फुर्ती बनाए रखने में बेहतर होता है।

कई बार लोग हीमोग्लोबिन कम होने की शिकायत करते हैं, खासतौर से महिलाओं में यह कम होता है। जिसका असर सेहत पर पड़ता है. ऐसे में गुड़ का सेवन करना आपके लिए अच्छा होगा। जिन लोगों को पाचन की समस्याएं रहती हैं, उनके लिए खाना खाने के बाद गुड़ खाना बहुत जरूरी है।

=>