हैलट हॉस्पिटल में मॉनिटरिंग टीम को कई जगह मिली अव्यवस्था,लगाईं फटकार

कानपुर। हैलट हॉस्पिटल मैं सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट मॉनीटरिंग टीम को निरीक्षण के दौरान कई जगह अव्यवस्था नजर आई। वार्ड के बगल में स्थित ग्राउंड में बिखरा कबाड़ और झाड़ियाँ देखकर हैरानी जताई। डंपिंग स्टेशन में एक ही बैग में मेडिकल वेस्ट भरा मिलने पर एमपीसीसी के सुपरवाइजर को फटकार लगाई। टीम ने नगर आयुक्त को जच्चा बच्चा हॉस्पिटल के बगल में स्थित कूड़ा घर को हटाने का निर्देश दिया।
टीम में शामिल हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज डीपी सिंह,पूर्व जज राजेंद्र सिंह,मुख्य पर्यावरण अधिकारी कुलदीप मिश्र और अन्य अधिकारी सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट का निरीक्षण करने शुक्रवार सुबह 10:45 पर प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक कार्यालय पहुंचे। उन्होंने प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डॉ. आरके मौर्य,डॉ.रीता गुप्ता,एमएस डॉ प्रेम सिंह,डॉ.एसके सिंह से मुलाकात की। सबसे पहले टीम वार्ड का निरीक्षण करने पहुंची। रास्ते में गैलरी के दोनों ओर बने पार्क पर जज की नजर पड़ी। उन्होंने अधिकारियों से सवाल जवाब किए जिस पर अधिकारी कुछ बोल नहीं सके। रिटायर्ड जज ने कहा कि पहले यहां पर कचरा या कबाड़ डंप किया जाता होगा। यह संक्रमण के फैलने का कारण है। इसे तुरंत सही कराया जाए। इसके बाद वार्ड 8 और वार्ड 7 को चेक किया। वहां सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट सही मिला। टीम ने और डस्टबिन रखवाने के लिए कहा। रिटायर्ड जज फिर सर्जरी वार्ड में गए। रास्ते मे निर्माणाधीन सुपर स्पेशलिटी वार्ड के कार्य को देखकर उसे ढंकने के लिए कहा। सर्जरी वार्ड में गंदगी मिली। ओटी में और डस्टबिन रखवाने का निर्देश दिया। टीम ने सॉलिड वेस्ट के डम्पिंग स्टेशन का निरीक्षण किया। वहां सभी बैग के कचरे को एक ही बैग में रखते पाया गया। इस पर जज ने एमपीसीसी के सुपरवाइजर को फटकार लगाई। इससे पहले टीम ने पनकी भाऊसिंह स्थित कूड़ा निस्तारण प्लांट की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। वहां प्लांट कर्मियों ने बताया कि बरसात के दिनों में पांडु नदी का पानी यहां आने से प्लांट बंद करना पड़ता है। इसके बाद टीम सदस्यों ने पांडु नदी का निरीक्षण कर वहां व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper