गाड़ी मे पत्नी का गला घोट रहे पति ने बचाने गए ग्रामीण को कुचलकर मार डाला

महिला की हालत गंभीर,पति फरार, ग्रामीण के घर मैं मचा कोहराम
कानपुर। चौबेपुर इलाके में सोमवार को हत्या का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां पत्नी को कार के अंदर जान से मारने का प्रयास कर रहे पति को रोकना एक ग्रामीण के लिए मौत का सबब बन गया। जबकि महिला की हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस ने महिला को अस्पताल में भर्ती कराते हुए घटना की छानबीन शुरु कर दी है।
चौबेपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत प्रतापपुर गांव में रहने वाले देवी प्रसाद (50) खेती किसानी करते थे। परिवार में झुन्नी देवी,दो बेटे जितेन्द्र व धर्मेन्द्र हैं। बुजुर्ग देवी प्रसाद का घर से 100 मीटर दूर बेला रोड पर दूसरा मकान है। सोमवार सुबह वह अपने दूसरे मकान जा रहे थे। रास्ते में इन्होंने सन्नाटे में एक कार सवार पुरुष को महिला का गला दबाते देखा। महिला की आवाज सुनकर जब वह कार के पास गये तो उनके होश उड़ गये। उन्होंने कार सवार को रोका और ग्रामीणों को आवाज लगाई। जिस पर खुद का फसता देख युवक ने बुजुर्ग को कार से रौंद दिया। इसके कुछ दूरी आगे जाकर उसने बेहोशी की हालत में महिला को फेका और भाग निकला। घटना देख दौड़कर पहुंचे ग्रामीणों ने बुजुर्ग को पास के अस्पताल पहुंचाया,जहां डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। घटना की जानकारी मिलते ही गांव में सनसनी फैल गई।
कोल्डड्रिंक में पति ने मिलाया था नशीला पदार्थ
इस बीच घटना की जानकारी पर सीओ बिल्हौर देवेन्द्र मिश्रा,चौबेपुर थानाध्यक्ष सुखराम रावत पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने महिला को बेहोशी की हालत में उर्सला अस्पताल पहुंचाया। जहां कुछ देर के इलाज के बाद महिला को होश आया। पुलिस ने महिला से घटना को लेकर पूछताछ की। हालत ठीक न होने के कारण महिला रेनू सिंह (23) ने लड़खड़ाती जुबान में कार में गला दबाकर हत्या करने वाले को अपना पति चन्दन सिंह निवासी कन्नौज के सरयू मीरा क्षेत्र का बताया। महिला ने यह भी बताया कि जिस कार में पति उसे लेकर आया था वह उसके दोस्त प्रदीप की है और घर से वह उसे घुमाने की बात कहकर लाया था। जहां रास्ते में उसने कोल्डड्रिंक में नशीला पदार्थ पिला दिया। जब होश आया तो वह उसका कार में ही गला दबा रहा था। आवाज सुनकर आये बुजुर्ग ने बचाने का प्रयास किया तो उसने उन्हें कुचल दिया।

=>