भारत में 4 करोड़ 20 लाख थायराइड के मरीज

थायराइड दिवस पर निशुल्क जांच, परामर्श व बी.एम.डी. टेस्ट

लखनऊ। विश्व थायराइड दिवस के अवसर पर शनिवार को सिनेपोलिस वन अवध सेण्टर में एक थायराइड शिविर जांच का आयोजन किया गया। इसमें मरीजों की निशुल्क जांच के अलावा उनका वजऩ, लम्बाई, बी.पी., मुफ्त आहार परामर्श और बी.एम.डी. टेस्ट भी किया गया। इसका आयोजन डायबिटीज सपोर्ट वेलफेअर सोसाइटी ने किया था।

45 मिनट से 60 मिनट की सैर जरूरी- डॉ. अरुण

इस अवसर पर सोसाइटी सेक्रेटरी डॉ. अरुण पाण्डेय ने बताया की रोज नियमित रूप से स्वस्थ व्यक्तियों को आधे घंटे और जिनका वजन लम्बाई के हिसाब से ज़्यादा है उन्हें 45 मिनट से 60 मिनट की सैर जरूरी है। ये सैर 6 किलोमीटर प्रति घंटा की चाल से होनी चाहिए। उन्होंने बताया कि भारत में 4 करोड़ 20 लाख लोग थायरॉयड विकार से ग्रसित हैं। थायराइड विकारों में से सबसे आम हाइपोथायरायडिज्म है जो कि 25 में से 1 से 10 में से 1 को प्रभावित करता है। जब थायरॉयड ग्रंथ शरीर की ज़रूरत को पूरा करने के लिए पर्याप्त थायराइड हॉर्मोन नहीं बना पाती है तब हाइपोथायरायडिज्म होता है। यह पुरुषों की तुलना में महिलओं को अधिक प्रभावित करता है। डॉ. अरुण पाण्डेय ने कहा कि 35 साल के ऊपर हर व्यक्ति को थायराइड की जांच करवाना चाहिए। डायबिटीज़ और हार्ट डिसीज़ के बाद यह सबसे ज़्यादा होने वाली बीमारी है।

loading...
=>