गर्भवती महिला को बेरहमी से पीटा, इलाज के दौरान मौत

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के विभूतिखंड थाना क्षेत्र में अंडे का ठेला लगाने के विवाद में एक 5-6 माह की गर्भवती महिला को उसी के रिश्तेदारों ने बेरहमी से दुकान पर पीट दिया। इससे भी जब दबंगो का मन नहीं भरा तो उसे घर में भी बुरी तरह लात-घूसों से पीटा।महिला अपनी और पेट में पल रहे बच्चे की जान की भीख मांगती रही लेकिन वह महिला को पीटते रहे। दबंगों ने उसे अधमरा कर दिया। आखिर पिटाई से महिला बेहोश हो गई। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने गंभीर हालत में महिला को डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया। यहां इलाज के दौरान उसकी मृत्यु हो गई। पुलिस ने घरवालों की तहरीर के आधार पर मुकदमा पंजीकृत कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। वहीं महिला की मौत से उसके घर में कोहराम मचा हुआ है।

जानकारी के मुताबिक, घटना विभूतिखंड थाना क्षेत्र की है। यहां अंडे का ठेला लगाने वाले शुभम रघुवंशी अपनी छह माह की गर्भवती पत्नी आरती रघुवंशी (23) के साथ रहता है। यहीं शुभम के मामा हुकुम सिंह अपने पुत्र और पत्नी मीनू सिंह के साथ रहते हैं। बताया जा रहा है कि शनिवार की रात अंडे का ठेला लगाने को लेकर हुकुम और शुभम के बीच कुछ झगड़ा हुआ। बात बढ़ गई तो दोनों के बीच मारपीट हो गई।इसी बात के चलते घर में मीनू और उसके लड़के ने आरती को बेरहमी से पीट दिया। इससे आरती बेहोश हो गई।

शुभम को घटना की जानकारी हुई तो वह घर पहुंचा और पुलिस को इसकी सूचना दी। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और गंभीर हालत में आरती को डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया। यहां से डॉक्टरों ने हालत को गंभीर देखते हुए उसे ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया। ट्रॉमा में रविवार सुबह उसकी मौत हो गई। घटना के बाद से आरोपी घर से फरार हैं। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इस संबंध में थाना प्रभारी विभुक्तिखंड ने बताया कि घरवालों की तहरीर के आधार पर मु.अ.सं. 338/19 धारा 304 IPC का पंजीकृत कर आरोपियों की गिरफ़्तारी के प्रयास किये जा रहे हैं।

=>