अन्य राज्य

दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में वीआईपी कल्चर खत्म, नहीं मिलेंगे प्राइवेट रूम

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने सरकारी अस्पतालों को लेकर बड़ी घोषणा की है। घोषणा के मुताबिक दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में वीआईपी कल्चर खत्म किया जा रहा है और इसके खत्म होने से सरकारी अस्पतालों में वीआईपी कमरे मिला नहीं करेंगे। हालांकि इलाज सभी का सामान्य रूप से होगा। इसके अलावा अस्पतालों में 13,899 बेड बढ़ाने का फैसला किया गया। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निर्देश पर स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने अस्पतालों में मूलभूत सुविधाएं और बुनियादी ढांचा बढ़ाने संबंधी रिपोर्ट उन्हें भेजी है।

 

रिपोर्ट के मुताबिक, खिचड़ीपुर के लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में नया मातृ और शिशु ब्लॉक बनेगा, जिसमें 460 बेड होंगे। इसे कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है और टेंडर प्रक्रिया भी पूरी हो चुकी है। इसके अलावा चार नए अस्पताल सरिता विहार, मादीपुर, हस्तसाल और ज्वालापुरी में बनेंगे। इनके निर्माण से संबंधित रिपोर्ट आने वाले सप्ताह में एक्सपेंडिचर फाइनेंस कमेटी (ईएफसी) के सामने रखी जाएगी। इनके निर्माण का खाका पहले ही तैयार हो चुका है। द्वारका, बुराड़ी व अंबेडकर नगर में तीन अस्पतालों का निर्माण चल रहा है। इन तीन अस्पतालों में 2613 बेड होंगे। अंबेडकर नगर में अस्पताल का भवन काफी हद तक बनकर तैयार है। द्वारका में मार्च 2020 तक अस्पताल बनकर तैयार होगा। वहीं बुराड़ी में नवंबर के अंत तक अस्पताल बनकर तैयार होगा।

loading...
Loading...

Related Articles

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com