पटनाबिहार

बिहार के शहीद सीआरपीएफ़ जवान संजय व रतन के जन्म मिट्टी से पुलवामा में बनेगा भारत का मानचित्र

 

पटना ( अ सं ) शहीद हुए सीआरपीएफ  के जवानों के आँगन की मिट्टी से पुलवामा स्थित सीआरपीएफ कैम्प में आगामी 14 फरवरी’2020 को भारत का मानचित्र बनाने का दृढ़संकल्प लेकर घुम रहे हैं; सीआरपीएफ के बिहार सेक्टर मुख्यालय में पहुंचे। जहाँ श्री एस० एम० हसनैन, डीआईजी के नेतृत्व में सभी अधिकारी गण काफ़ी गर्मजोशी से स्वागत किए। यहाँ से उक्त आतंकी हमला में शहीद हुए बिहार के दोनों लाल “संजय कुमार सिन्हा, मसौढ़ी, पटना व रतन कुमार ठाकुर, भागलपुर के घर जाएंगे और उनके परिजनों से मिलकर उनके आँगन की मिट्टी साथ ले जाएँगे।

          जाधव अपनी यात्रा का श्रीगणेश शौर्य दिवस – 09 अप्रैल’2019  को सीआरपीएफ के समूह केंद्र, बंगलोर से किया। अबतक वे 28 शहीदों के आंगन की मिट्टी इकट्ठा कर चुके हैं। इसके लिए इन्होंने देश के 18 राज्यों में गया।  बिहार इस क्रम में 19वां राज्य है। ये अपनी यात्रा को “शौर्य दिवस – 09 अप्रैल’2020” को सरदार पोस्ट, रण, कच्छ, गुजरात में विराम देंगे।
         चालीस वर्षीय जाधव मूल रूप से महाराष्ट्र के औरंगाबाद के रहने वाले हैं। ये पेशा से प्राध्यापक व संगीतकार हैं। इन्होंने इस  सराहनीय कार्य को निष्पादित करने के लिए अपना संगीत स्कूल बंद कर दिया है।
             विदित हो कि इनका यह कार्य गैर राजनीतिक व गैर प्रायोजित है। यह कार्य  आम जनता के सहयोग से पूर्णतया निस्वार्थ किया जा रहा है।
loading...
Loading...

Related Articles