18+

जा​नें, पीरियड सेक्स के बारे में ये बातें नहीं पता होगी…

बहुत सी महिलाएं ऐसी हैं जो पीरियड्स के दौरान ज्यादा उत्तेजित और स्ट्रॉन्ग ऑर्गज्म महसूस करती हैं। अगर आप भी पीरियड सेक्स में दिलचस्पी लेते हैं ज्यादातर लोग पीरियड्स के दौरान सेक्स करने के बारे में सोचकर ही असहज हो जाते हैं। इतना ही नहीं धार्मिक और सांस्कृतिक विचार भी इसके खिलाफ हैं।

साथ ही हाईजीन और फेमिनिटी का हवाला देते हुए भी पीरियड्स के दौरान सेक्स को सही नहीं माना जाता। लेकिन इसका मतलब यह बिलकुल नहीं है कि पीरियड्स के दौरान सेक्स करने वालों की कमी है। इससे जुड़ी बातें जिनके बारे में शायद आप नहीं जानते होंगे…

क्या कहता है विज्ञान?
पीरियड्स के दौरान दूसरे या तीसरे दिन आपका ईस्ट्रजन लेवल अपने पीक पर होता है और इस दौरान आप सबसे ज्यादा उत्तेजना महसूस करती हैं। साथ ही पीरियड्स के पहले दिन जितनी असुविधा महसूस होती है वह भी धीरे-धीरे खत्म होने लगती है और आपका मूड भी बेहतर होने लगता है। मेन्ट्रूअल ब्लड की वजह से वजाइनल पैसेज लुब्रिकेटेड रहता है जिससे सेक्स करना और भी ज्यादा आसान और स्मूथ हो जाता है। श्रीनिवासन की मानें तो इस बात के भी सबूत मिले हैं कि पीरियड्स के दौरान ऑर्गज्म से आपका मूड बेहतर होता है और तकलीफदेह मेन्सट्रूअल क्रैम्प्स से भी छुटकारा मिलता है।

कॉन्डम का करें इस्तेमाल
पीरियड्स के दौरान सेक्स करना प्रतिदिष्ट नहीं है लेकिन यह बेहद सामान्य भी नहीं है। पीरियड के दौरान एक महिला के गुप्तांग में इंफेक्शन होने का खतरा सबसे ज्यादा रहता है। साथ ही STD और वायरस संबंधित बीमारियां जैसे हेपेटाइटिस बी और HIV होने की आशंका भी रहती है। डॉ सेल्वराज का सुझाव है कि अगर आप गर्भनिरोधक गोली का इस्तेमाल कर रही हैं तब भी पीरियड के शुरूआती कुछ दिनों में कॉन्डम का इस्तेमाल करें। इससे इंफेक्शन होने का चांस कम रहेगा।

पहले इस बारे में बात करें
पहले से यह मानकर न बैठें कि आपके पार्टनर को पीरियड सेक्स के बारे में सबकुछ पता है। हो सकता है उन्हें यह पसंद हो या नापसंद हो। इस बारे में जानने का सिर्फ एक तरीका है और वह है बातचीत। पति से पीरियड सेक्स के बारे में बात करने पर वह हमेशा झेंप जाती थीं क्योंकि उन्हें लगता था कि उनके पति इसे पसंद नहीं करते होंगे। शादी के 1 साल बाद जब उन्होंने पति से पीरियड सेक्स के बारे में बात की तो पता चला कि उन्हें इससे कोई परहेज नहीं है।

गंदगी की चिंता न करें
पीरियड सेक्स का रूटीन ट्राइ्ड या टेस्टेड है। मेरी शादी को 8 साल हो गए हैं और मेरे पति और मैं हम दोनों ही पीरियड सेक्स से कभी शर्माते नहीं हैं। इस दौरान हम सिर्फ मिशनरी पोजिशन ही ट्राई करते हैं और नीचे एक पतला प्लास्टिक टेबलक्लॉथ रख लेते हैं ताकि ज्यादा गंदगी न फैले। कई बार हम पीरियड्स के दौरान शावर में ही सेक्स कर लेते हैं जिससे गंदगी फैलने का कोई झंझट ही नहीं होता।

प्रोटेक्शन है जरूरी
वैसे तो पीरियड्स के दौरान सेक्स करने पर प्रेग्नेंसी का चांस न के बराबर होता है। बावजूद इसके पीरियड्स जब खत्म हो रहा होता है उस वक्त कुछ महिलाओं में ऑव्यूलेशन शुरू हो जाता है। ऐसे में अगर इस दौरान कोई स्पर्म अंदर चला गया तो वह 2-3 दिन तक वहां रह सकता है जिससे प्रेग्नेंसी का चांस होता है। लिहाजा प्रोटेक्शन का इस्तेमाल जरूर करें।

अपना मन हो तो ही करें
पीरियड्स के दौरान सेक्स करना है या नहीं यह आपकी पर्सनल चॉइस होनी चाहिए। यह आपके कंफर्ट लेवल पर निर्भर करता है। किसी के जबरन कहने पर ऐसा न करें। पीरियड्स एक नॉर्मल बॉडी फंक्शन है और इसके लिए आपको शर्मिंदा होने या अपराधबोध महसूस करने की जरूरत नहीं है। अगर आप पीरियड्स के दौरान सेक्स नहीं करना चाहती हैं तो खुद को संतुष्ट करने के कई दूसरे तरीके मौजूद हैं।

loading...
Loading...

Related Articles

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com