Monday, March 8, 2021 at 8:04 AM

इमरान खान ने अर्नब गोस्वामी के वायरल चैट का सहारा लिया…

नई दिल्ली। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान अपनी नाकामियां छिपाने के लिए हर दिन भारत को कोसने के लिए कोई न कोई बहाना ढूंढते रहते हैं। भारत के खिलाफ बोलकर अपने आवाम को खुश करने के लिए इस बार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने रिपब्लिक टीवी एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी के वायरल चैट का सहारा लिया है। अर्नब गोस्वामी के वायरल चैट में बालाकोट एयरस्ट्राइक का जिक्र होने की वजह से इमरान खान ने इसे  मोदी सरकार पर हमला करने के लिए मौके के रूप में लिया है और मोदी सरकार पर आतंकवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है।

इमरान खान ने सिलसिलेवार तरीके से कई ट्वीट किए। इमरान खान ने साल 2019 में संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा में दिए अपने एक भाषण का हवाला देते हुए आरोप लगाया कि मोदी सरकार ने बालाकोट का इस्‍तेमाल अपने घरेलू चुनावी फायदे के लिए किया। उन्होंने आगे कहा कि एक भारतीय पत्रकार के चैट खुलासे से मोदी सरकार और भारतीय मीडिया के बीच अपवित्र सांठगांठ का पता चलता है, जिसके कारण चुनाव जीतने के लिए पूरे इलाके को सैन्य संघर्ष की आग में झोंक दिया गया।

पाकिस्तान में भारत पर आतंकवाद को स्पॉनसर करने का आरोप लगाते इमरान खान ने कहा कि हमारे खिलाफ भारत की हर साजिश का पर्दाफाश हुआ है। अब भारत के अपने मीडिया ने उसकी गंदी सांठगांठ का खुलासा किया है, जो परमाणु हथियार से लैस इस क्षेत्र को संघर्ष की आग में झोंकना चाहता है।

उन्‍होंने आरोप लगाया कि कि मोदी सरकार फांसीवादी रवैया अपना रही है और उनकी सरकार इसका खुलासा करती रहेगी। अंतरराष्ट्रीय समुदाय से मदद की मांग करते हुए इमरान ने कहा, ‘उन्होंने अपने आखिरी ट्वीट में कहा कि मैं यह दोहराना चाहता हूं कि मेरी सरकार मोदी सरकार के फासीवाद को उजागर करती रहेगी। अंतरराष्ट्रीय समुदाय को भारत को अपने लापरवाह, सैन्यवादी एजेंडे से रोकना चाहिए, इससे पहले कि मोदी सरकार की भयावहता हमारे क्षेत्र को एक ऐसे संघर्ष में धकेल दे, जिसे हम नियंत्रित नहीं कर सकते।

दरअसल, बीते दिनों अर्नब गोस्वामी और बार्क के पूर्व सीईओ पार्थो दासगुप्ता के बीच की कुछ कथित वॉट्सऐप चैट्स सामने आईं। इंटरनेट पर वायरल हो रहीं ये चैट्स टीआरपी मामले में मुंबई पुलिस द्वारा दायर सप्लीमेंट्री चार्जशीट का हिस्सा हैं। ट्विटर पर इन कथित चैट्स के विभिन्न हिस्से वायरल हैं। इस चैट में बालाकोट एयर स्ट्राइक से तीन दिन पहले किसी बड़ी स्ट्राइक का जिक्र भी है। इन वायरल वॉट्सऐप चैट्स में अर्नब गोस्वामी 23 फरवरी, 2019 को तत्कालीन बार्क सीईओ से कहते कि ‘कुछ बड़ा’ होने वाला है, जिसके बाद जब उनसे कहा गया कि क्या यह दाऊद के बारे में है तो वह जवाब देते हैं, ”नहीं सर, पाकिस्तान। इस बार कुछ अहम होने जा रहा है।” पार्थो दासगुप्ता अगले जवाब में स्ट्राइक का जिक्र करते हैं तो अर्नब कहते हैं, ”नॉर्मल स्ट्राइक से बड़ी स्ट्राइक होने वाली है और उसी समय कुछ कश्मीर में भी अहम होगा।”

गौरतलह है कि साल 2019 में 14 फरवरी को पुलवामा में आतंकी हमला हुआ था, जिसके बाद 26 फरवरी को भारत ने बालाकोट एयरस्ट्राइक कर पाकिस्तान के कई आतंकी ठिकानों को धवस्त कर दिया था। हालांकि, इस चैट में कितनी सच्चाई है, यह तय कोर्ट को करना है।

Loading...