Friday, December 3, 2021 at 6:32 AM

राष्ट्रीय लोक अदालत के सम्बन्ध में उपजिलाधिकारियों एवं तहसीलदारों के साथ बैठक सम्पन्न

प्रतापगढ़ (तरुण मित्र),उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ के दिशा निर्देश व माननीय जनपद न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण संजय शंकर पाण्डेय के निर्देशानुसार जनपद न्यायालय के सभागार में उपजिलाधिकारी एवं तहसीलदार के साथ आगामी राष्ट्रीय लोक अदालत 11 दिसम्बर 2021 के सम्बन्ध में बैठक की गयी। बैठक में सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण नीरज कुमार त्रिपाठी ने निर्देशित किया कि राष्ट्रीय लोक अदालत में अधिक से अधिक मामलों का निस्तारण आपसी सुलह समझौता के आधार पर कराया जाये, इसलिये अपने स्तर से अधिक से अधिक मुकदमों को चिन्हित करके राष्ट्रीय लोक अदालत में निस्तारित करायें। इसके अतिरिक्त निर्देशित किया गया कि वह चिन्हित मामलों का पूर्ण विवरण कार्यालय जिला विधिक सेवा प्राधिकरण को आगामी 30 नवम्बर 2021 तक उपलब्ध करायें। बैठक में सचिव ने सभी उपजिलाधिकारियों/तहसीलदारों को निर्देशित किया कि आगामी लोक अदालत को सफल बनाने हेतु अपने अपने क्षेत्रों में वाहन से प्रचार करायें। बैठक में सचिव ने यह भी जानकारी दी कि पारिवारिक विवादों के समाधान हेतु प्री-लिटिगेशन के माध्यम से विवाद निस्तारित कराने हेतु राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा निर्देशित किया गया है। इस सम्बन्ध में अलग से लोक अदालत का आयोजन दिनांक 22 जनवरी 2022 को किया गया है। बैठक में निर्देशित किया गया कि उनके क्षेत्र के थानों में प्राप्त पारिवारिक विवाद से सम्बन्धित प्रकरण को निस्तारित करने हेतु जिला विधिक सेवा प्राधिकरण कार्यालय को भेजवाना सुनिश्चित करें।
बैठक में उपजिलाधिकारी सदर सौम्य मिश्रा, उपजिलाधिकारी पट्टी डी0पी0 सिंह, उपजिलाधिकारी रानीगंज बी0के0 प्रसाद, उपिजलाधिकारी कुण्डा सतीश चन्द्र त्रिपाठी, तहसीलदार लालगंज जावेद अंसारी, तहसीलदार सदर अरविन्द कुमार एवं अधिवक्ता मध्यस्थ विश्वनाथ प्रसाद त्रिपाठी व पैनल अधिवक्ता रूपनारायण सरोज उपस्थित रहे।