Thursday, September 23, 2021 at 4:20 AM

मुज़फ्फरनगर: जिला पूर्ति विभाग का नया खेल, नाम काट कर वसूली का काम जारी

मुज़फ्फरनगर। जिला पूर्ति विभाग की धांधली से गरीब उपभोक्ता परेशान हैं. विभाग द्वारा गरीब की यूनिट काटकर उसको परेशान किया जा रहा है. यूनिट जोड़ने के नाम पर आपरेतर द्वार पैसा लिया जा रहा है. वरिष्ठ नागरिकों को भी छोड़ा नहीं जा रहा है. बेईमानी के कारण सरकार की गरीब को अनाज देने की योजना को पलीता लगा रहे हैं।

शहर की कृष्णा पुरी निवासी वरिष्ठ नागरिक ने बताया की उनके कोई लड़का नहीं है. लड़कियो की शादी हो चुकी है. उनके राशन कार्ड में पति सहित केवल दो यूनिट हैं. अनीता की तबियत खराब रहती है. उनके पति ही अंगूठा लगाकर राशन लाते थे. पिछले सात माह से उनके पति का नाम राशन कार्ड से काट दिया. उनके पति कई बार जिला पूर्ति अधिकारी व एरिया राशन अधिकारी को कागज देकर अपनी यूनिट जोड़ने की कोशिश कर चुके हैं. दफ्तर से जवाब मिलता है की नेट बन्द है. दोनों वरिष्ठ नागरिकों को कई माह से राशन नहीं मिल सका है.

कार्यालय में प्राइवेट ऑपरेटर यूनिट जोड़ने के लिए पैसा मांगता है. श्रीमती अनीता ने मुख्य मंत्री से मांग की है की हमें गरीब को कोई आमदनी नहीं है. उन्होंने अपने पति की यूनिट जुड़वाने की मांग मुख्यमंत्री जी से की है तथा विभाग में फैले भ्र्ष्टाचार की जांच की मांग की है. अनीता का कहना है की ये भृष्ट अधिकारी सरकार को बदनाम करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं.

Loading...