Wednesday, December 8, 2021 at 3:19 PM

आबादी क्षेत्र में 44 हाथियों की दस्तक से दहशत

रायपुर: छत्तीसगढ़ के सरगुजा संभाग के कई जिलों में हाथियों की वजह से ग्रामीणों में दहशत है। हाथी रात के समय जंगलों से निकलकर आबादी क्षेत्रों तक पहुंच रहे हैं। हाथी न सिर्फ अनाज को चट कर जा रहे हैं बल्कि कच्चे मकानों को भी क्षतिग्रस्त कर दे रहे हैं। अभी 42 से 44 हाथियों का दल कोरिया जिले के खड़गवा वन परिक्षेत्र में मौजूद है, जिससे ग्रामीणों की परेशानी बढ़ गई है। हाथियों की दहशत की वजह से लोग घर छोड़कर सरकारी भवनों में शरण लेने को मजबूर हो गए हैं। हाथियों पर नजर रखने वन विभाग ने कर्मियों की ड्यूटी भी लगाई है। ग्रामीणों को अलर्ट रहने और हाथियों से दूर रहने मुनादी भी कराई जा रही है।हाथियों का यह दल मध्य प्रदेश की ओर से दो-तीन दिन पहले छत्तीसगढ़ में पहले है। दल में छोटे बच्चे सहित 42 से 44 हाथी हैं। मरवाही वनमंडल होते हुए हाथियों का यह दल कोरिया जिले के खड़गवा वन परिक्षेत्र पहुंचा गया है। ग्राम पंचायत पैनारी के आश्रित ग्राम महादेवपाली एवं पंडोपारा के नजदीक जंगली हाथियों से ग्रामीणों में दहशत है। जनहानि रोकने वन विभाग ने ग्रामीणों को पंडोपारा स्थित आंगनबाड़ी केंद्र व पैनारी के स्कूल में शिफ्ट कर दिया है। ग्रामीणों को सुरक्षित स्थान पर रहने व हाथियों से दूर रहने की अपील की जा रही है।