अब तक 20 हजार अवैध पिस्टल कर चुका है सप्लाई

इंदौर। इंदौर की क्राइम ब्रांच पुलिस के हाथ आज वो शातिर तस्कर लग गया जो अब तक करीब 20 हजार पिस्टल की तस्करी कर चुका है। उसके पास से 15 अवैध पिस्टल, कारतूस और 590 बैरल जब्त किए गए। तस्कर के दो साथी भी पुलिस के हाथ लगे हैं। अब पुलिस उसके पूरे नेटवर्क का पता लगा रही है। इंदौर के आसपास का इलाका अवैध हथियारों की तस्करी का गढ़ बन चुका है।

इंदौर क्राइम ब्रांच पुलिस ने अवैध हथियार तस्करी से जुड़े एक गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया। गिरोह का सरगना अकाल सिंह है। पुलिस ने पहले अकाल को पकड़ा और फिर उसकी निशानदेही पर उसके दो साथियों को धरदबोचा। दोनों मूल रूप से इंदौर के रहने वाले हैं। ये अकाल सिंह को बैरल बनाकर मुहैया करवाते थे, और अकाल सिंह उससे कट्टे और पिस्टल बनाकर अलग अलग जगहों पर सप्लाई कर देता था। पुलिस अब आरोपियों से विस्तृत पूछताछ कर रही है, ताकि बाकी आरोपियों को भी पकड़ा जा सके।

लेथ मशीन से बैरल
अकाल सिंह बुराहनपुर का रहने वाला है, उस पर पूर्व में भी अवैध हथियार तस्करी समेत कई गंभीर आपराधिक प्रकरण दर्ज हैं। आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह इंदौर के विजय नगर थाना क्षेत्र की भमोरी की एक लेथ मशीन से इन हथियारों की बैरल तैयार करवाता था। पिछले कुछ वर्षो में वो लगभग 20 हजार बैरल तैयार करवा कर बेच चुका है। आरोपी के पास से 15 अवैध देशी पिस्टल सहित 590 बैरल बरामद हुई हैं।

नेटवर्क की तलाश
अकाल सिंह इंदौर से आर्डर पर बैरल बनवाता और पिस्टल तैयार कर विभिन्न इलाको में खपा देता था, इसमें महत्वपूर्ण बात यह है कि अवैध पिस्टल के लिए बैरल का निर्माण लम्बे समय से इंदौर में ही हो रहा था। पुलिस ने जब इन स्थानों पर दबिश दी तो आरोपी फ़रार हो गए।

See also  महिला का अंतिम संस्कार बारिश के बीच हुआ