UKADD
Saturday, October 16, 2021 at 11:16 AM

कहीं कन्या भोज, कहीं नवरात्रि का रेला

घरों व मंदिरों में हुआ होम-हवन, गाये देवी गीत
लखनऊ। नवरात्रि पर्व के नवमी के दिन यानी गुरूवार को शहर भर के मंदिरों में सुबह से ही श्रद्धालुओं का तांता दर्शन करने को लगा रहा। बाजारों में भी काफी चहल-पहल रही जबकि आज से ही तकरीबन सभी सरकारी कार्यालयों में अवकाश है। वहीं नवमी के दिवस पर तमाम लोगों ने नवरात्रि व्रत का पारन किया और कन्या भोज कराते हुए उनका आशीर्वाद लिया। ऐसे में जिन भी कॉलोनियों व क्षेत्रों में छोटी बच्चियां रहीं, उनको अपने घर पर बुलाने के लिये भक्तजन सुबह से ही लगे रहे। यही नहीं पंडित और आचार्यों ने भी अपने-अपने यजमानों के यहां नवरात्रि कलश स्थापना के दृष्टिगत होम-हवन कराया। महिलाओं व बच्चियों ने देवी गीत-भजन भी गाये। वहीं शाम होते-होते राजधानी के सभी प्रमुख रूटों पर नवरात्रि को रेला बढ़ता दिखा। चंूकि अगले दिन दशहरा व विजयदशमी है, ऐसे में अधिकांश शहर वासी अपने परिवार के साथ शहर भर में अलग-अलग इलाकों में लगी मां दुर्गा प्रतिमा का दर्शन करने को निकल पड़े। ऐसे में एक ओर जहां दिन में अवकाश होने पर सड़कों पर सन्नाटा छाया रहा तो वहीं दूसरी तरफ शाम होने के साथ ही भीड़ उमड़ पड़ी।


दहन को सजने लगा रावण परिवार
लखनऊ। वैसे तो दशहरा यानी रावण दहन शुक्रवार को है, मगर एक दिन पहले गुरूवार को ही जगह-जगह रावण व उसके परिवारजनों के पुतले दहन को सजने-संवरने लगे। वहीं दूसरी तरफ छोटे-छोटे बच्चों में भी रावण दहन को लेकर काफी उत्सुकता दिखी। तमाम कॉलोनियों में बच्चे थोड़े-थोड़े पैसे जुटाकर रावण दहन की तैयारी में जुट गये। इसके अलावा राजधानी के जिन भी क्षेत्रों में जैसे ऐशबाग, जानकीपुरम, गोमतीनगर विस्तार, बंगला बाजार, राजाजीपुरम जहां भी रावण दहन का कार्यक्रम आयोजित होता आया है, वहां पर तैयारियां शुरू कर दी गर्इं।