लखनऊ

पक्कापुल संझिया घाट पर दो दिवसीय छठ उत्सव आज से

पक्कापुल संझिया छठ घाट पर गोमती मैया को चढ़ाई गई पियरी

लखनऊ। भोजपुरी छठ पूजा समिति की ओर से शुक्रवार को पक्का पुल डालीगंज स्थित संझिया घाट के नए पक्के घाट पर आदि गंगा गोमती का स्पर्श हो गया। वहां बने मिट्टी के कच्चे बांध के हटते ही नए पक्के घाट पर पानी सात सीढ़ियों पर क्रमवार आने लगा। आयोजक समिति के सदस्यों ने गोमती मइया को पियरी चढ़ाई। पहली बार बने इस पक्के घाट से हजारों की संख्या में भक्त शनिवार को छठी मइया का पूजन, डूबते सूरज को नदी में उतर कर अर्घ्य दे कर कर सकेगी।
हे गोमती मइया तोहे पियरी चढ़ईबो
समिति के अध्यक्ष अशोक कुमार वर्मा की अगुआई में गोमती के संझिया घाट पर पीले रंग की धोती जिसे पियरी कहते हैं चढ़ाई गई। इससे पहले भक्तों ने “हे गोमती मइया तोहे पियरी चढ़ईबो” भजन गाया। पूजन अनुष्ठान के इस क्रम में गोमती जल पहुंचने पर दूध, शहद, गंगाजल, रोली, अक्षत, कलावा, मिष्ठान, पान आदि अर्पित किया गया। इसके साथ ही जगत कल्याण की कामना से नदी में दीपक भी प्रवाहित किये गये। नजदीक कही गोमतेश्वर महादेव मंदिर है वहां भी लोगों ने पुष्प, धूप, फल, दीपक आदि अर्पित किया।
इस अवसर पर वहां लगी सुरक्षा रेलिंग में भी कलावा बांधे। समिति के महामंत्री एमके सिंह ने बताया कि घाट पर मुख्य आयोजन 2 और 3 नवम्बर को होगा। उसमें भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह मुख्य अतिथि होंगे। विशिष्ट अतिथि के रूप में महापौर संयुक्ता भाटिया, भाजपा नगर अध्यक्ष मुकेश शर्मा को आमंत्रित किया गया है। समारोह की अध्यक्षता विधायक डॉ.नीरज बोरा करेंगे। इस अवसर पर वहां अमरनाथ वर्मा का दल सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश करेगा। इसके लिए वहां भव्य सांस्कृतिक पंडाल बन गया है। व्रत रखने वाली महिलाओं ने घाट पर आकर्षक सीढ़ीदार शीशप्ता बनाए हैं। छठ मेले के लिए बच्चों के पारंपरिक और नए झूले लगने लगे हैं।

loading...
Loading...

Related Articles