कानपुर

कालाबाजारी करने वालों तक ग्राहक बनकर पहुंचे आईजी और कमिश्नर

मुनाफाखोरों पर एफआईआर दर्ज

कानपुर। कोरोनावायरस के संक्रमण को देखते हुए देशभर में 21 दिन का लॉकडाउन किया गया है। इस बीच बंदी का फायदा उठाने वालों के खिलाफ पुलिस ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। राशन और सब्जियों के निर्धारित मूल्य से अधिक कई गुना दामों पर बेचने वालें दुकानदारों पर मुकदमा दर्ज किए जा रहे हैं।

मंगलवार को शहर में सुबह छह से दस बजे तक आईजी मोहित अग्रवाल व मंडलायुक्त सुधीर एम बोबड़े सादे कपड़ों में आम नागरिक की तरह घूम कर सब्जी मंडी,फल मंडी,किराने की दुकान एवं आटा चक्की का जायजा लेने पहुंचे। दोनों ही अधिकारियों ने देखा कि किसी व्यक्ति को आवश्यक वस्तुओं की खरीदारी में कठिनाई का सामना तो नहीं करना पड़ रहा। सामान सही रेट पर बिक रहा है अथवा नहीं। इस दौरान ज्यादा रेट पर सामान बेचने वालों पर संबंधित अधिकारियों को कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए गए।
वहीं कलक्टरगंज थाना क्षेत्र में मना करने के बावजूद भीड़ लगाकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया गया। इस दौरान एक थोक आटा विक्रेता फुटकर विक्रय करते हुए पकड़ा गया।
धरी की धरी रह गई होम डिलीवरी,बाजारों मैं उमड़ी भीड़
शहर मैं सोमवार देर शाम को लाउडस्पीकर से सब्जी,फल मंडी साथ ही दुकानों को बंद रखने का ऐलान किया गया था। केवल होम डिलीवरी पर जोर दिया गया था। लेकिन उसके बाद भी मंगलवार सुबह फिर से बाजार खुले और बड़ी संख्या मैं लोगों ने खरीदारी की। इस दौरान मिठाई,पान की दुकानें भी खुली। वहीं लोगों ने सोशल डिस्टेन्सिंग की जमकर धज्जियां उड़ाई गई और होम डिलीवरी धरी की धरी रह गई।
loading...
Loading...

Related Articles

PHP Code Snippets Powered By : XYZScripts.com