UKADD
Saturday, October 16, 2021 at 10:45 AM

गरुड़ पुराण के अनुसार ऐसे लोग स्वर्ग नहीं नरक जाते है

 

हिंदू धर्म के ऐसे ग्रंथ भी है जिनमें ऐसी कथाएं दी है जिनमें स्वर्ग और नर्क के बारे में बताया गया है। इन्ही पुराणों में से है गरुड़ पुराण। जिसमें स्वर्ग और नरक के बारें में बहुत ही विस्तार से बताया गया है। गरुड़ पुराण को हिंदू धर्म के 18 पुराणों में से एक माना जाता है। गरुड़ पुराण में हमारें जीवन को लेकर कई गूढ बातें बताई गई है। जिनके बारें में व्यक्ति को जरुर जनना चाहिए।

ऐसे ही कुछ बातें है जिनके बारें में न हमने सुना है न ही उनके बारें में जानते है। गरुड़ पुराण के अनुसार माना जाता है कि जो मनुष्य गलत काम करते है या फिर दुष्ट होते है वो नरक जाते है। और जो लोग अच्छा काम करते है वह स्वर्ग जाते है। स्वर्ग जिसे देवताओं का निवास स्थान माना जाता है। जो बुरे कर्म करते है उन्हें नरक में ले जाकर बहुत ही बुरी तरीके से दंडित किया जाता है।

आज हम अपनी खबर में गरुड़ पुराण में दिए गए ऐसे लोगों के बारें में बता रहे है जो ऐसे काम करते है। उन्हें नरक में जाकर अपने पाप भोगने पडते है। जानिए ऐसे कौन से लोग है। ऐसे लोग जो सिर्फ अपने बारें में सोचते है किसी दूसरें का हित नहीं करते है। साथ ही जो लोग कुएं, तालाब, प्याऊ और मार्ग आदि को हानि पहुंचाते हैं, ऐसे दुष्ट लोगं को नरक में ले जाया जाता हैं।

पढ़े और कौन से लोग जाते है नरक में….

-समाज में ऐसे कई से लोग होते है जो आपना पेट दूसरों से झूठ बोलकर भरते है या फिर कोई गलत काम करके। गरुड़ पुराण के अनुसार जो लोग किसी स्त्री की हत्या करते है, आत्महत्या, गर्भ हत्या, ब्रह्म हत्या, गौ हत्या करते है या फिर किसी कन्या को बेचें, अपने लाब के लिए झूठ बोले। ऐसे लोगों को नरक में ही जगह मिलती हैं।
-जो लोग धर्म को नही मानते है। उसकी निंदा करते है, साथ ही ऋषि-मुनियों, वेद-पुराण की निंदा कर उसका मजाक उड़ाते है। वो नरक जाते है।
-जो लोग किसी भी समय या फिर कभी किसी देवी-देवता ता चिंतन नही करते है वो नरक में जाते है। पुराने जमाने के लोग हमेशा एक बात कहते है कि प्रभु का चिंतन करते रहो तभी तुम्हें स्वर्ग की प्राप्ति होगी।
-गरुड़ पुराण में कहा गया है कि हमें सी पर दया करनी चाहिए जिससे हमें ही पुण्य प्राप्त होता है। लेकिन कई ऐसे व्यक्ति होते है जो अनाथ, गरीब, बच्चों, बूढ़े आदी पर दया नहीं दिखतें। ऐसे लोग नरक में जाते है।
-एक ब्राह्मण व्यक्ति अगर व्यसनों में फस कर मांस मंदिरा का सेवन वाला, दूसरें का धन हडपने वाला, झूठ बोलने वाला भी नरक में जाता है।
-पुराणों में माना जाता हैं कि जब आप भोजन करें उससे पहले किसी को भोजन खिलाना चाहिए इससे आपको अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है। जो लोग अपने घर में अपनी पत्नी, बच्चों, नौकरों या फिर घर आए मेहमानों को भोजन नही कराते है वह नरक का रास्ता अपने लिए खोल लेते है। -जो लोग दिनभर बुरें व्यसनों यानी कि शराब, मंदिरा और मांस आदि में लगे रहते है। वह भी नरक को ही जाते है।
-जो लोग किसी की समस्या को नही समझते है। उसका अपमान करते है। जैसे कि घर में कोई गरीब व्यक्ति खानें के लिए मांगने आता है तो उसका अपमान कर उसे भगा देते है। ऐसे लोग नरक में जाते है।
-जो लोग पूजा-पाठ और अपने पितरों का तर्पण नही करते है। वह नरक में जाते है।
-जो लोग दूसरें के धन में अपनी नजर रखते है या फिर उसका धन हडप लेते है, या फिर जो लोग दूसरों से ईर्ष्या करते है, साथ ही दूसरें की हमेशा बुराई करने वाले नरक में जाते है।