पुलिस लाईन हिंसा मामले में तत्परता से होगी जाँच और दोषियों पर कार्रवाई – डीजीपी

 लापरवाह पुलिस पदाधिकारियों पर भी कार्रवाई करने का दिया हैं संकेत

>> जोनल आईजी ,पटना ने डीजीपी को देर रात सौंपा हैं जांच रिपोर्ट

>> 175 रंगरूट की हो चुकी है सेवा से बर्खास्त ,2 दर्जन निलंबित और 95 का जोन ट्रांसफर

>> हिंसा ,सरकारी कार्य में बाधा ,सरकारी सम्पत्ति का नुकसान को लेकर हो चुका है चार एफआईआर

रवीश कुमार मणि
पटना ( अ सं ) । समाज में हिंसा का कोई जगह नहीं हैं । जो दोषी होते है उनके खिलाफ कानून ,अनुकूल कार्रवाई होती हैं । राजधानी ,पटना के पुलिस लाईन में जो हिंसा की घटना घटी ,वह शर्मसार करने वाली हैं । डीजीपी के एस द्विवेदी ने कहां की घटना को लेकर चार एफआईआर हुई हैं ।इसकी तत्परता से जांच होगी और जो घटना में सीधे रूप से शामिल होंगे ,इनके खिलाफ क्रीमनल केस चलेगा ,गिरफ्तारी होंगी ,और जो अनुशासन को तोड़े होंगे उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई चलेगी ।किसी को बक्शशने का सवाल ही नहीं होता ।वहीं जो पुलिस पदाधिकारी ने अपने कर्तव्य का सही पालन नहीं किये हैं उनके खिलाफ भी कार्रवाई होंगी ।
डीजीपी के एस द्विवेदी ने कहां की बीते गुरुवार की देर रात ,पटना के आईजी एन एच खां ने पुलिस लाईन में हिंसा की जांच रिपोर्ट सौंप दिया हैं । लगातार बंदी के कारण रिपोर्ट का अध्ययन नहीं हो सका हैं । पुलिस लाईन में हिंसा को लेकर चार एफआईआर दर्ज किया गया हैं । जो हिंसा कारित करने में थे वह सीधे तौर पर अपराध किया हैं । उनको बक्शने का सवाल ही उत्पन्न नहीं होता । चिन्हित और ठोस सबूत को आधार मानते हुये आरोपियों की गिरफ्तारी भी होंगी। जोनल आईजी ने प्रथम दृष्टा में दोषियों के खिलाफ ,सेवा बर्खास्त ,निलंबित का कार्रवाई किया हैं । लंबे अरसे से जमे पुलिस पदाधिकारियों और सिपाहियों का जोन ट्रांसफर किया गया हैं । डीजीपी ने कहां की हर बिंदु पर जांच हो रहीं हैं और भी जो घटना में शामिल होंगे उनके खिलाफ कार्रवाई होगी । जिस पुलिस पदाधिकारी / अधिकारी ने अपने कर्तव्य का सही पालन नहीं किया हैं उनके विरूद्ध में कार्रवाई होगी ।
=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper