घर पर पुराना डिस बनाए: गोइंठा/फारा

उत्तर प्रदेश के पूर्वान्चल में प्रचलित एक ऐसा डिस जो बनाने के कई दिन बाद तक खाया जा सकता है।
सामग्री
250 ग्राम उड़द दाल
50 ग्राम मकई का आटा
50 ग्राम चावल का आटा
50 ग्राम गेहूं का आटा
50 ग्राम ज्वार का आटा
50 ग्राम बाजारे का आटा
25 ग्राम जीरा
1/2 टीस्पून हींग
3-4 कलियां लहसुन की, पीसी हुई
1/2 टीस्पून मिर्च पाउडर
1 टीस्पून धनिया पाउडर
1 टीस्पून हल्दी पाउडर
1 टीस्पून गर्म मसाला
नमक स्वादानुसार

विधि

उड़द की दाल पीस लें। पीसी हुई दाल में जीरा, हींग, पीसी हुई लहसुन, मिर्च पाउडर, धनिया पाउडर, हल्नी पाउडर, गर्म मसाला और स्वादनुसार नमक डालें। मकई, चावल, गेहूं, ज्वारी और बाजरे के आटे को अच्छे से मिला लें। उसमें चुटकीभर नमक डालें. आटे के मिश्रण को अच्छे से गूंध लें। आटे की लोइयां बना लें और हाथ से ही थपथपाते हुए गोल मोटी रोटी की तरह बनाएं। रोटी में उड़द की दाल का मिश्रण भरें और इच्छित आकार देते हुए इसे सील कर दें फिर इन्हें भाप पर पकाएं गोइंठा तैयार हैं. इन्हें मीठे दही या चटनी के साथ सर्व करें।

=>