भूपेन हजारिका परिवार का ‘भारत रत्न’ लेने से इनकार

CREATOR: gd-jpeg v1.0 (using IJG JPEG v62), quality = 75

नई दिल्ली। प्रख्यात दिवंगत गायक भूपेन हजारिका के परिजनों ने भारत रत्न सम्मान लेने से इनकार कर दिया है। भूपेन हजारिका का कहना है कि नागरिकता संशोधन बिल 2016 के विरोध में वे इस अवॉर्ड को लौटाएंगे।

उनका कहना है कि ‘उत्तर-पूर्व भारत में क्या हालात है, यह सब जानते है. ऐसी परिस्थिती में, मैं यह सम्मान स्वीकार नहीं कर सकता। अगर मेरे पिता आज जिंदा होते तो शायद वह भी मेरी इस बात से सहमत होते और यही करते। उन्होंने कहा कि मैं भारत रत्न को लौटा रहा हूं और यह बताना चाहता हूं कि मैं नागरिकता संशोधन के मामले में असम के लोगों के साथ हूं।

सूत्रों के मुताबिक भूपेन हजारिका के बेटे तेज हजारिका अमेरिका में रहते हैं. उन्होंने भारत रत्न सम्मान लेने से इनकार करने की पुष्टि की है। इस संबंध में विस्तृत जानकारी नहीं मिल सकी है।इससे पहले 25 जनवरी को भारत सरकार ने देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न समेत पद्म पुरस्कारों का एलान किया था। भूपेन हजारिका समेत पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और नाना जी देशमुख को भारत रत्न देने की घोषणा की गई थी।

=>