Main Sliderराष्ट्रीय

निकल गया भयानक चक्रवात फोनी, अब स्थिति सामान्य की ओर

नई दिल्ली: ओडिशा में भारी तबाही मचाने वाला चक्रवात तूफान फोनी शनिवार को पश्चिम बंगाल पहुंचा। हालांकि यहां पहुंचते-पहुंचते ये कमजोर हो गया था। ओडिशा में इससे 8 लोगों की जान गई। अब ऐसी संभावना है कि 50-60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार और गहरे दबाव के साथ यह दोपहर तक बांग्लादेश पहुंच जाएगा। पश्चिम बंगाल पहुंचने से पहले ओडिशा तट पर यह बेहद भयानक चक्रवात कमजोर होकर भयानक चक्रवात में बदल गया था। ममता बनर्जी ने कहा कि अगले दो दिनों में स्थिति सामान्य हो जाएगी। सभी एहतियाती कदम उठाए गए। हमें लोगों से सहयोग मिला। काम जोरों पर चल रहा है। कोलकाता हवाईअड्डे पर शनिवार सुबह 9 बजकर 57 मिनट पर विमानों का परिचालन शुरू कर दिया गया। शुक्रवार को अपराह्न तीन बजे विमानों का परिचालन रोक दिया गया था।

प्रशासन ने हर उपाय किए: ममता बनर्जी
प्रशासन द्वारा 42,000 लोगों को निकाला गया। उन्हें एक या दो दिन में उनके घर लौटा दिया जाएगा। मैं पिछले एक सप्ताह से चिंतित थी। हम स्थिति पर लगातार नजर बनाए हुए हैं और सभी एहतियाती कदम उठाए हैं। कोलकाता के मेयर स्थिति पर नजर रखने के लिए पूरी रात लगे रहे। प्रशासन ने हर उपाय किए। हमें लोगों से सहयोग मिला है। हम उन्हें धन्यवाद देना चाहते हैं: ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल में 2 दिन में सामान्य हो जाएगी स्थिति
अधिकांश इलाकों में फंसे पेड़ों को हटा दिया गया है और सड़कों को साफ कर दिया गया है। दीघा, मंदारमणि, डायमंड हार्बर में बहाली का काम पूरा हो रहा है और अन्य क्षेत्रों में पूरे जोरों पर चल रहा है। ज्यादातर जगहों पर बिजली बहाल कर दी गई है। अगले दो दिनों में स्थिति सामान्य हो जाएगी: ममता बनर्जी

ममता बनर्जी ने बताया पश्चिम बंगाल में हुआ कितना नुकसान
ममता बनर्जी ने कहा, ‘अब तक चक्रवात बांग्लादेश की ओर बढ़ गया है। लेकिन इसके बाद में प्रभाव हो सकते हैं, जो शाम तक होंगे। बिजली के पोल उखड़ गए, पेड़ गिर गए, सड़कें प्रभावित हुईं। 12 कच्चा मकान ढह गए, 800 से अधिक घर आंशिक रूप से प्रभावित हुए हैं। हम बहाली के काम का ध्यान रखेंगे।’

बचाव कार्य को लेकर बोले नवीन पटनायक
24 घंटे में रिकॉर्ड 1.2 मिलियन लोगों निकाल गया, गंजम से 3.2 लाख, पुरी से 1.3 लाख। रात भर में 9000 आश्रयों और करीब 7000 रसोईघरों को कार्यात्मक बनाया गया। इस विशाल काम में 45,000 से अधिक स्वयंसेवक शामिल थे। हमारी नवीनतम रिपोर्टों के अनुसार मौतें इकाई अंक में हैं: नवीन पटनायक

असम में हो रही बारिश
चक्रवाती तूफान फोनी के प्रभाव से असम के अधिकांश हिस्सों में लगातार बारिश हो रही है। जोराहाट और माजुली, गुवाहाटी और उत्तरी गुवाहाटी, धुबरी और अन्य जगहों के बीच नौका सेवाओं को बंद करने के लिए अलर्ट जारी किया है।

फोनी से निपटने के लिए UN ने की भारत की तारीफ
संयुक्त राष्ट्र की आपदा न्यूनीकरण एजेंसी ने भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की ओर से चक्रवाती तूफान फोनी की पूर्व चेतावनियों की लगभग अचूक सटीकता की सराहना की है।

एअर इंडिया चलाएगी अतिरिक्त उड़ान
चक्रवाती तूफान फोनी के कारण फंसे यात्रियों के लिए एअर इंडिया ने आज अतिरिक्त उड़ान की घोषणा की (दिल्ली-भुवनेश्वर 3 बजे और भुवनेश्वर-दिल्ली 5:45 बजे)।

अब हानिकारक नहीं है चक्रवात फोनी
रणदीप कुमार राणा, DIG ऑपरेशंस, NDRF ने बताया, ‘चक्रवात फोनी कमजोर हो गया है और चक्रवात के रूप में पश्चिम बंगाल के क्षेत्रों को कवर कर रहा है। यह आगे बांग्लादेश की ओर बढ़ रहा है। स्थिति नियंत्रण में है और अधिक हानिकारक प्रभाव नहीं है। पश्चिम बंगाल में NDRF की 9 टीमें मौजूद हैं।’

मई को ओडिशा जाएंगे पीएम नरेंद्र मोदी
पीएम मोदी ने जानकारी दी, परसों 6 तारीख की सुबह मैं चक्रवात फोनी के मद्देनजर उत्पन्न स्थिति का जायजा लेने के लिए ओडिशा जाऊंगा।

कोलकाता एयरपोर्ट पर उड़ानों का परिचालन शुरू
कोलकाता एयरपोर्ट सुबह 8 बजे उड़ान की आवाजाही के लिए फिर से खुल गया। उड़ानों के आगमन और प्रस्थान की बहाली के लिए निरीक्षण चल रहा है और तैयारी चल रही है। पहली उड़ान 9.45 बजे निर्धारित है।

loading...
=>

Related Articles