अखिलेश ने मायावती के आवास पर जाकर की मुलाकात, लोग निकाल रहे मायने?

लखनऊ: समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने एक्ज्टि पोल आने के बाद आज बहुजन समाज पार्टी चीफ मायावती से मुलाकात की। अखिलेश ने उनके आवास पर जाकर ये मुलाकात की। ये मुलाकात ऐसे समय में हुई है, जब लोकसभा चुनाव के बाद आए एग्जिट पोल में नतीजे बीजेपी और एनडीए के पक्ष में आ रहे हैं। इससे पहले ये भी खबर आई कि मायावती दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात नहीं करेंगी। बीएसपी का ये बयान उन रिपोर्टों के बाद आया, जिनमें कहा जा रहा था कि मायावती सोमवार को विपक्षी नेताओं के साथ बातचीत करेंगी।

मुलाकात के बाद अखिलेश ने मीडिया से बात करने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा, ‘अभी नहीं, अगर मुझे बोलना होगा तो मैं बाद में बोलूंगा।’ टाइम्स नाउ-वीएमआर के एग्जिट पोल के अनुसार, बीजेपी+ को 58 सीटें मिलती दिख रही हैं, जबकि सपा-बसपा और आरएलडी गठबंधन को 20 सीटें मिलती दिख रही हैं। वहीं कांग्रेस को सिर्फ 2 सीटें मिल रही हैं।

सपा-बसपा गठबंधन से यूपी में बीजेपी को ज्यादा नुकसान होने की बात कही जा रही थी। राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि सपा-बसपा और आरएलडी का गठबंधन भाजपा को करीब 40-45 सीटों का नुकसान पहुंचा सकता है लेकिन एग्जिट पोल के नतीजे से जाहिर है कि एनडीए को ज्यादा नुकसान नहीं हो रहा है। चुनाव के असली नतीजे 23 मई को आएंगे।

2014 लोकसभा चुनाव में एनडीए को 80 में से 73 सीटें मिली थीं, जबकि सपा को 5 और कांग्रेस को 2 सीटे मिली थीं। बसपा को एक भी सीट नहीं मिली थी।

इससे पहले शनिवार को आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू ने शनिवार को विपक्ष के कई बड़े नेताओं से मुलाकात की थी। लखनऊ में उन्होंने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा प्रमुख मायावती से मुलाकात की। अखिलेश से मुलाकात के बाद नायडू सीधे मायावती के माल एवेन्यू आवास के लिए रवाना हुए, जहां बसपा सुप्रीमो ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया। मुलाकात के दौरान बसपा महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा भी मौजूद रहे।

=>