बिलग्राम,बाल श्रम पर नहीं लग पा रही रोक,लोग खुले आम करा रहे बाल मजदूरों से कार्य

बिलग्राम।हरदोई- बाल श्रम के प्रति श्रम-विभाग पूरी तरह खामोश दिखाई दे रहा है। जिसके चलते गांव देहात से लेकर नगर में जहां भी देखो कम उम्र के बच्चे चंद पैसों के लालच में अपना बचपन खो रहे हैं पढ़ने लिखने की उम्र में लोग बाल मजदूरों से खुलेआम काम करा रहे हैं। और प्रशासन को इसकी कानो कान खबर नहीं लग रही।ताजा मामला बिलग्राम के अंतर्गत ग्राम म्योरा का है। जहां पर कई बच्चे मनरेगा के तहत तालाब में कराये जा रहे कार्यों को साफ तौर पर करते नजर आ रहे हैं। बताया गया है कि गांव के प्रधान के द्वारा गांव के निकट तालाब में मनरेगा के तहत कार्य कराया जा रहा है जिसमें ये बच्चे काम कर रहे हैं। बाल श्रम का मुख्य कारण गरीबी और अशिक्षा है चंद पैसों के लालच में आकर इन बच्चों के माता-पिता भी उन्हें स्कूल न भेजकर उनकी जिंदगी को अंधकारमय कर रहे हैं आपको बता दें कि बाल श्रम भारतीय संविधान के तहत १४ वर्ष से कम आयु के बच्चों से मजदूरी करवाना कानूनन अपराध है लेकिन फिर भी दुकान होटल रेस्तरां गावों में जहां भी देखो ऐसे तमाम बच्चे काम करते नजर आ जायेंगे जिनके हाथों में किताबों की जगह कुदाल फावड़ा चाय की केतली और होटलों पर झूठे बर्तन दिखाई देंगे/-

loading...
=>