ट्रामा की जानकारी केलिए किया ट्रामाशास्त्र पुस्तक का विमोचन

लखनऊ। इंडियन मेन्टल हेल्थ एंड रिसर्च सेंटर द्वारा ट्रामा पर संबंधित एक पुस्तक का विमोचन किया गया। यह विमोचन शिया पीजी कॉलेज में किया गया। पुस्तक में 42 चैप्टर के माध्यम से मानसिक व शारीरिक ट्रामा के बारे में जानकारी दी गयी है इसके साथ ही ट्रामा से उभरने व बचाव के तरीकों का भी जिक्र किया गया है।

इनके द्वारा लिखी गई पुस्तक

यह पुस्तक सय्यद साजिद हुसैन काजमी (डायरेक्टर इंडियन मेन्टल हेल्थ एंड रिसर्च सेंटर), डॉ. आगा परवेज मसीह (एसोसिएट प्रोफेसर जियोलॉजी डिपार्टमेंट शिया पीजी कॉलेज), काशिफ हसन (एमिटी स्कूल ऑफ कम्युनिकेशन), मोहम्मद अली (असिस्टेंट प्रोफेसर एजुकेशन डिपार्टमेंट शिया पीजी कॉलेज) व डॉ. सूफिया तालिब (डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान) द्वारा लिखी गई है।

डिपार्टमेंट ऑफ हैप्पीनेस की शुरुआत

इस दौरान कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एरा यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रोफेसर अब्बास अली मेहदी के साथ ही एमिटी यूनिवर्सिटी के क्लीनिकल साइकोलॉजी विभागाध्यक्ष प्रोफेसर जफर जैदी भी मौजूद थे। वहीं आल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड के प्रवक्ता डॉ. यासूब अब्बास भी थे। प्रोफेसर अब्बास अली मेहदी ने शारीरिक ट्रामा और उसके इलाज के बारे में विस्तृत जानकारी दी तथा चिकित्सकों के मानसिक स्वास्थ्य की ओर सबका ध्यान आकर्षित किया। उन्होंने बताया कि एरा यूनिवर्सिटी चिकित्सकों के मानसिक स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए डिपार्टमेंट ऑफ हैप्पीनेस की शुरुआत कर रही है।

मानसिक स्वास्थ्य सम्बन्धी देते हैं जानकारी

प्रोफेसर जफर जैदी ने मानसिक ट्रामा के बारे में जानकारी दी और ट्रामा से गुजर रहे व्यक्ति व उसके परिवार को किन बातों का ध्यान रखना चाहिए इस पर चर्चा की। उन्होंने बताया कि कैसे लोग अपने मानसिक स्वास्थ्य के प्रति जागरूक नहीं रहने के कारण परेशानियों का सामना करते हैं। इंडियन मेन्टल हेल्थ एंड रिसर्च सेंटर के डायरेक्टर सय्यद साजिद हुसैन काजमी ने इस मौके पर अपनी संस्था के द्वारा किये जा रहे कार्यों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इनकी टीम स्कूल व कॉलेज के छात्रों तथा उनके अभिभावकों को मानसिक स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी देते रहते हैं और समय-समय पर जांच शिविर का आयोजन भी करते रहते हैं। अंत में राष्ट्र गान के बाद डायरेक्टर साजिद काजमी ने इस पुस्तक विमोचन कार्यक्रम में आए हुए सभी मेहमानों का धन्यवाद दिया।

=>