तहरी में सोयबीन की पायी गयी कमी, मिर्च अधिक होने पर लगाई फटकार 

कानपुर। जिलाधिकारी ने एक बार फिर से परमट स्थित प्राथमिक स्कूल का जैसे ही औचक निरीक्षण किया तो फिर से उन्हे खामिया मिली। इस दौरान बच्चो को दिये जाने वाले मिड डे मिल में कमी पायी गयी। जिसके बाद जिलाधिकारी ने नाराजगी जाहिर की
बच्चो को दी जाने वाली तहरी में सोयाबीन की मात्रा कम होने के साथ ही मिर्च अधिक थी। जिस पर जिलाधिकारी ने फटकार लगाते हुए कहा कि टीचर  पहले  स्वयं खाकर देखे फिर बच्चों को खिलाए। शिक्षा की गुणवत्ता में कोई कमी नहीं होनी चाहिए इसके लिए बच्चों को पढ़ने लिखने के साथ ही  अच्छी से बोलना आना चाहिए इसमें लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। जिलाधिकारी ने शिक्षा की गुणवत्ता के लिए 30 जुलाई को इस विद्यालय का निरीक्षण किया था और यहां के अध्यापक से बच्चों को बेहतर तरीके शिक्षा दिये जाने के लिए निर्देशित किया था। जिसकी क्रास चेकिंग करने के लिए बुधवार को जिलाधिकारी विजय विश्वास पंत ने औचक निरीक्षण किया। उन्होंने बच्चों से उनके नाम का मतलब फिर दोबारा पूछा तो एक भी बच्चा नाम का अर्थ नही बता पाने पर जिस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी जाहिर की। इसके लिए गम्भीरता से बच्चों को पढ़ाने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने बच्चों को दिये जाने वाले मध्यान्ह भोजन की गुणवत्ता के लिए तहरी को चख कर देखा जिसमे सोयाबीन की मात्रा बहुत कम थी और बहुत तीखी बनी थी जिस पर उन्होंने कड़ी नारजगी व्यक्त करते हुए कहा कि पहले अध्यापक स्वयं खा कर देखे फिर बच्चों को  खाने के लिए दिया जाये।
loading...
=>