खेल

इस वजह से टीम के सबसे अहम गेंदबाजों में गिने जाते हैं मोहम्मद शमी

मोहम्मद शमी टीम इंडिया के तेज गेंदबाजो में तो माने ही जाते हैं इस वजह से पिछले कुछ समय से शानदार फॉर्म में हैं। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज के पहले टेस्ट मैच की दूसरी पारी में शमी ने पांच विकेट झटके।

शमी ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि वो टीम के सबसे अहम गेंदबाजों में क्यों गिने जाते हैं।शमी ने विशाखापट्टनम में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट के पांचवें और अंतिम दिन 35 रन पर पांच विकेट लेकर भारत को 203 रन से जीत दिलाई। शमी को पहली पारी में कोई विकेट हासिल नहीं हुआ था लेकिन शमी की दूसरी पारी की घातक गेंदबाजी के चलते दक्षिण अफ्रीकी टीम दूसरी पारी में महज 191 रनों पर सिमट गई। पिछले 23 सालों में ये पहला मौका है जब किसी भारतीय तेज गेंदबाज ने घरेलू टेस्ट की चौथी पारी में पांच विकेट हासिल किए हैं।

दूसरी पारी में शमी का धांसू रिकॉर्ड

इससे पहले 1996 में जवागल श्रीनाथ ने अहमदाबाद में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चौथी पारी में पांच विकेट लिए थे। इस लिस्ट में अन्य भारतीय तेज गेंदबाज करसन घावरी, कपिल देव और मदनलाल हैं। साल 2018 के बाद से शमी दूसरी पारी में तीन बार पांच विकेट ले चुके हैं जो किसी गेंदबाज के लिए सबसे ज्यादा है। वो 15 दूसरी पारियों में 17.70 के औसत से 40 विकेट हासिल कर चुके हैं। इसके मुकाबले 16 पहली पारियों में उन्होंने 37.56 के औसत से केवल 23 विकेट लिए हैं और पहली पारी में उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 64 रन पर तीन विकेट रहा है।

‘गेंद रिवर्स होने पर घातक को जाते हैं शमी’

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने शमी की तारीफ़ करते हुए कहा, ‘शमी हमारे लिए दूसरी पारी में लगातार स्ट्राइक गेंदबाज रहे हैं। अगर आप उनके चारों पांच विकेट के प्रदर्शन को देखें तो वे सभी दूसरी पारी में आए हैं जब टीम को विकेटों की सख्त जरूरत थी। अगर गेंद थोड़ा भी रिवर्स हो रही है तो शमी घातक हो जाते हैं।’ भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच सीरीज का दूसरा मैच 10 अक्टूबर से खेला जाना है।

loading...
Loading...

Related Articles

PHP Code Snippets Powered By : XYZScripts.com