चेकिंग के दौरान बवाल, ग्रामीणों ने किया रोड जाम, लाठी चार्ज

सीओ व एसओ समेत कई  पुलिस कर्मियों को लगी चोटे, आधा दर्जन ग्रामीण भी घायल

लखनऊ। राजधानी के नगराम इलाके में चेकिंग को लेकर उग्र हुए ग्रमीणों और पुलिस के बीच जमकर बवाल  हुआ। पुलिस के सख्ती के बाद कर्ई गांवों के सैकड़ों ग्रामीण थाना क्षेत्र के हरदोईया चौराहे पर नगराम-गंगागंज मार्ग  जामकर पुलिस के विरोध में नारे बाजी करने लगे। इस बीच मौके पर पहुंचे सीओ मोहनलालगज ने ग्रामीणों को समझाने का काफी प्रयास किया लेकिन ग्रामीणों ने एक न सुनी। प्रदर्शन के दौरान ग्रामीण दोषी पुलिस कर्मी के विरूद्घ कार्रवाई की मांग करने लगे। बवाल बढ़ता देख मौके पर निगोंहा, मोहनलालगंज, नगराम, गोसाईगंज की पुलिस पहुंच गयी। हालालत बिगडते देख पुलिस ने लाठी चार्ज कर दिया । इस बीच ग्रामीणों ने ईट, पत्थरों से हमला बोल दिया। इस हमले में करीब आधा दर्जन ग्रामीणों को चोटे आयी है और  हमले में सीओ मोहनलालगंज , एसओ नगराम को भी चोटे आयी है। फिलहाल स्थिति नियतंत्रण में है।
जानकारी के मुताबिक नगराम थाना क्षेत्र के हरदोई चौराहे पर शाम करीब छह बजे पुलिस चेकिंग कर रही थी। चेकिग के दौरान गंगागंज से काम खत्म कर अपने गांव चौराहपुर  जा रहे दिनेश रावत समेत तीन लोग एक बाइक पर थे। पुलिस ने उन्हें रोकने का प्रयास किया तो बाइक चला रहे युवक ने रफ्तार बढा दी। इस बीच दिनेश रावत को एक पुलिस कर्मी ने पकड़ लिया जिससे वह बाइक से नीचे गिर गया। गिरने के बाद  दिनेश उठ नहीं पाया। मौके पर मौजूद ग्रामीणों की भीड़ जुटने से पुलिस ने उसे किसी तरह से उठवाकर सीएचसी में भर्ती कराया। बताया जा रहा हे कि दिनेश  की कमर की हड्डïी टूट गयी है। यह खबर जैसे ही उसके गांव पहुंची सैकड़ों  ग्रामीण हरदोईया चोराहे पर आ गये और हंगामा करने लगे। इसकी सूचना पुलिस  अधिकारियों को दी गयी। जिससे निगोंंहा, नगराम, मोहनलालगंज, गोसाईगंज, थाने की पुलिस मौके पर पहुंच गयी। हालांकि पुलिस हंगाम और रोड जाम कर रहे ग्रामीणाों को समझाने का काफी प्रयास किया लेकिन ग्रामीणो ने एक सुनी। जिस पर पुलिस ने लाठी चार्ज कर भीड़ को तितर-बितर कर दिया। हालांकि इस दौरान बुद्घी, मोहित, कुमार, संजय रावत, श्याम जी, आशोक, अरविन्द को चोटे आयी है। इस दौरान ग्रामीणों द्वारा की जा रही पत्थरबाजी में सीओ मोहनलालगंज और एसओ नगराम समेत अन्य पुलिस कर्मियों को भी चोटे आयी है।

loading...
=>