उत्तर प्रदेशलखनऊ

नौकरी दिलाने के नाम पर करोड़ों की ठगी, दो गिरफ्तार

एसटीएफ ने जनपद हरदोई से सरगना समेत दो लोगों को दबोचा

लखनऊ। एसटीएफ ने विभिन्न सरकारी विभागों में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश करते हुए सरगना समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गये आरोपी फर्जी दस्तावेजों के माध्यम से लगभग 100 लोगों से करोडों रुपए की ठगी कर चुके हैं। पकड़े गये आरोपियों के कब्जे से एक लैपटाप, लगभग 25 पेज कूट रचित दस्तावेज ( भारतीय खाद्य निगम से सम्बन्धित आईडी कार्ड ज्वाइनिंग लेटर व कार्यालय आदेश), 990 रुपए नगदी व अन्य दस्तावेज बरामद हुए हैं।
एसटीएफ के एसएसपी के मुताबिक , अनुज कुमार पुत्र नत्थूलाल ग्राम व पोस्ट बरान थाना हरपालपुर जनपद हरदोई ने थाना हरपाल पुर जनपद हरदोई में केस दर्ज कराया था। आरोप था कि उनसे भारतीय खाद्य निगम में नौकरी दिलाने का लालच देकर एक गैंग ने आठ लाख 10 हजार रुपए लेकर भारतीय खाद्य निगम के कूट रचित आईडी कार्ड ज्वाइनिंग लेटर व कार्यालय आदेश दिये हंै। मामले की जांच एसटीएफ द्वारा की जा रही थी। इसी दौरान मुखबिर की सूचना पर हरपालपुर जनपद हरदोई से समय करीब 13:00 बजे गैंग के सरगना समेत दो लोगों को दबोच लिया गया। पकड़े गये आरोपियों ने अपना नाम व पता  विनय यादव उर्फ डेविल पुत्र नेत्रपाल सिंह यादव निवासी नयी मन्डी, जनता कालोनी थाना फ्रेन्ड्स कालोनी जनपद इटावा व प्रवीन कश्यप उर्फ सोनू पुत्र चन्द्रभान कश्यप निवासी   नगर जनपद मैनपुरी बताया है। गिरोह के मास्टर माइंड विनय यादव उर्फ डेविल ने बताया कि मेरे पिता जी के मामा के लड़के विपिन यादव ने मुझ से भारतीय खाद्य निगम में भर्ती कराने का झांसा देकर बेरोजगार युवकों से 6 से 8 लाख रुपए पद के अनुसार (लिपिक, सुपरवाईजर ) भर्ती कराने के नाम पर जमा कराने के लिए जनवरी 2018 में कहा था। वहीं बेरोजगारों को फंसाने के लिए  एपेक्स चेम्बर 19 विधान सभा मार्ग में एक कार्यालय खोला गया था। वहीं  पर अंशू कनौजिया बेरोजगार युवकों को नौकरी के बारे में जानकारी देता था। वहीं इसी आफिस में ही सरकारी विभागों से सम्बन्धित ज्वाइनिंग लेटर व आईडी कार्ड तैयार कर मोहर लगाकर हस्ताक्षर बनाकर बेरोजगारों से रुपए लेकर देते थे। पकड़े गये आरोपी ने बताया कि अब तक करीब  पश्चिमी उप्र. से लगभग 100 लोगों से करोड़ों रूपयों की ठगी की जा चुकी है। वहीं आज भी हम लोग अनुज कुमार से रूपया लेने के लिए आये थे कि तभी पकड़ लिए गये। फिलहाल आरोपियों के खिलाफ विधिक कार्रवाई कर उनके अन्य साथियों की तलाश की जा रही है।

loading...

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com