पटनाबिहार

ब्लाइंड मर्डर केस का डीएसपी ने किया खुलासा ,प्राइवेट पार्ट काट हत्या करने वाले तीन गिरफ्तार

पुलिस को गुमराह करने के लिए रची गयी थी गहरी साजिश ,प्रयुक्त चाकू बरामद

 रामाकांत यादव का गुप्तचर था काब निवासी मृतक सुधीर
पटना ( अ सं ) । ब्लाइंड केसों को खुलासा करने में माहिर डीएसपी मनोज पांडे ने एक सप्ताह के अंदर दो ब्लाइंड केसो का सिर्फ़ ख़ुलासा ही नही किया बल्कि अपराधियों को सलाखों के पीछे डालने का काम किया है । आरटीआई  कार्यकर्ता पंकज कुमार की हत्या के बाद प्राइवेट पार्ट काट की गयी सुधीर कुमार की हत्या में शामिल तीन अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया हैं और प्रयुक्त चाकू भी बरामद कर लिया हैं । साथ ही अपराधियों की रची गयी गहरी साजिश अवैध संबंध के एंगल को बेनकाब कर दिया हैं ।
       आरटीआई कार्यकर्ता पंकज कुमार की हत्या का अभी तीन दिन ही बीता था की रानीतलाब थाने के काब गांव निवासी सुधीर कुमार की लाश बधार में फेंका पुलिस ने बरामद किया था। सुधीर कुमार की हत्या ,अपराधियों ने प्राइवेट पार्ट को काटकर किया  था।  पुरी आस-पड़ोस में अपराधियों ने ऐसा भ्रम फैलाया की मृतक का किसी से अवैध संबंध था, जिसके कारण प्राइवेट पार्ट काट हत्या किया गया हैं ।
        एसएसपी उपेन्द्र शर्मा ने सुधीर हत्याकांड को लेकर स्पेशल टीम गठित किया गया और कांड के उद्भेदन की जिम्मेवारी पालीगंज डीएसपी मनोज पांडे को सौंपा गया । डीएसपी मनोज पांडे ने मोबाइल डिटेल निकला तो अवैध संबंध का मामला कहीं से सामने नहीं आते दिखा फिर डीएसपी ने गुप्तचर को लगाया तो बहुत कुछ सामने आ गया ।इसके बाद पूछताछ के लिए कुछ बदमाशों को हिरासत में लिया तो सबकुछ स्पष्ट हो गया ।
        डीएसपी मनोज पांडे के नेतृत्व में काब गांव में छापेमारी कर हत्याकांड में शामिल अपराधी बब्लू उर्फ बाबू ,पंडित एवं कुंदन उर्फ दीपक को गिरफ्तार कर लिया और इनके निशानदेही पर प्राइवेट पार्ट काटने वाला चाकू को भी पुलिस ने बरामद कर लिया ।इस खुलासे मे थानाध्यक्ष इंद्रदीत सिंह ने भी सराहनीय प्रयास किया हैं । डीएसपी  मनोज पांडे बताएं की हत्याकांड को पांच अपराधियों ने अंजाम दिया था । दो फरार अपराधियों के गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी हैं । वही खुलासा किया की प्राइवेट पार्ट काटकर सुधीर की हत्या करने के पीछे पुलिस की जांच दिशा को भटकाना था।
डीएसपी ने बताया की सुधीर की हत्या गुप्तचर की शंका में हुई हैं । अपराधियों को शंका थी की सुधीर कुमार ,रामाकांत यादव के लिए गुप्तचर वाला काम करता था, जिसके कारण कई बार हत्या की प्लानिंग फेल कर गया था, इसी को लेकर सुधीर कुमार की हत्या की गयी थी।
loading...
Loading...

Related Articles