Main Sliderराष्ट्रीय

सावधान: भारत में कोरोना वायरस की आशंका, दो लोगों की स्‍पेशल वार्ड में हो रही जांच

नई दिल्‍ली। कोरोना वायरस को लेकर एहतियात बरतने के क्रम में चीन से वापस लौटे दो लोगों का मुंबई में जांच किया जा रहा है। छत्रपति शिवाजी महाराज इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर 19 जनवरी से तमाम यात्रियों की जांच की जा रही है। इनका थर्मल स्‍क्रीनिंग किया जाता है। इनमें से दो की निगरानी चिंचपोकली के कस्‍तूरबा अस्‍पताल में किया जा रहा है।

उधर, राजधानी दिल्‍ली स्‍थित एम्‍स अस्‍पताल ने भी चीन से बाकी देशों में फैल रहे कोरोना वायरस से निपटने को लेकर तमाम इंतजाम उपलब्‍ध होने की बात कही है। इस बात की जानकारी अस्‍पताल के निदेशक डॉक्‍टर रणदीप गुलेरिया (Dr Randeep Guleria) ने शुक्रवार को दी। उन्‍होंने कहा, ‘कोरोना वायरस के मरीजों के इलाज के लिए हमारे पास तमाम सुविधाएं हैं। एम्‍स में इसके लिए अलग से एक ‘आइसोलेशन (isolation)’ वार्ड भी है। स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों के लिए तमाम सुविधाएं भी उपलब्‍ध हैं जैसे मास्‍क व हैंड सैनिटाइजर आदि।’

एयरपोर्ट पर जारी स्‍क्रीनिंग प्रयासों के तहत अभी तक किसी कोरोना मामले का पता नहीं चला है। यह जानकारी स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की ओर से दी गई। विभाग ने बताया, ‘पिछले 14 दिनों में चीन के वुहान शहर जाने वाले किसी भी यात्री को इसके लिए पॉजिटीव नहीं पाया गया।’ सबसे पहले वुहान में कोरोना वायरस का मामला रिपोर्ट किया गया। बृहन्‍मुंबई म्‍यूनिसिपल कार्पोरेशन (BMC) ने इसके लिए अपने कस्‍तूरबा अस्‍पताल में स्‍पेशल वार्ड बनाया है। BMC के एक्‍जीक्‍यूटीव स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी डॉक्‍टर पद्मजा केसकर ने कहा, ‘कोरोना वायरस से संक्रमित संदिग्‍ध के इलाज के लिए अलग से एक स्‍पेशल वार्ड की व्‍यवस्‍था की गई है।’ केसकर ने बताया कि निरीक्षण में रखे गए दो लोगों को मामूल खांसी है और कुछ जुकाम संबंधित लक्षण देखे गए हैं।

उन्‍होंने आगे बताया कि शहर के सभी प्राइवेट डॉक्‍टरों से कहा गया है कि कोरोनावायरस को लेकर संदेह होते ही BMC को तुरंत अलर्ट करें। कस्‍तूरबा अस्‍पताल के सूत्रों के अनुसार, उन्‍हें महाराष्‍ट्र सरकार की ओर से कोरोना वायरस मामले में तमाम निर्देश दिए गए हैं।

loading...
Loading...

Related Articles

Back to top button