धर्म - अध्यात्म

अगर आप भी हैं मंगल दोष से प्रभावित तो जरूर करें ये उपाय, मिलेगा दुखों से छुटकारा

हिन्दू धर्म में अगर ग्रहों की बात करी जाए तो हर ग्रह का अपना—अपना प्रभाव है जिसकी वजह से मानव को अच्छ या बुरा प्रभाव भोगना पड़ता है आज हाम बात करने जा रहे हैं, मंगल दोष की ज्योतिष के अनुसार तमाम दोषों में मंगल दोष की भी चर्चा होती है। तो आइए जानते हैं मंगल दोष दूर करने और उसकी शुभता दिलाने वाले महाउपाय के बारे में —

– यदि आप मंगल दोष से अत्यधिक पीड़ित हैं तो प्रत्येक मंगलवार को मंगलदेव की पूजा करें। यदि ज्यादा परेशानी में हो तो आप मध्य प्रदेश के उज्जैन स्थित मंगलनाथ मंदिर में जाकर मंगल दोष निवारण की विधि-विधान से पूजा करें। 

– माता मंगला गौरी की साधना-अराधना और विशेष पूजन करने से भी इस दोष से मुक्ति मिलती है।

– मंगल दोष को दूर करने के लिए प्रतिदिन या फिर मंगलवार के दिन विशेष रूप से बजरंग बली की साधना करें। बजरंगी की साधना में हनुमान चालीसा या बजरंगबाण का पाठ अवश्य करें। साथ ही बजरंग बली के पैर का सिंदूर का टीका लगाएं। मंगल का दुष्प्रभाव कम होगा। 

– मंगल दोष से पीड़ित व्यक्ति आज मंगलवार को या फिर संभव हो तो प्रतिदिन बंदरों को गुड़ और चने खिलाएं। साथ ही अपने घर में लाल पुष्प वाले पौधे लगाकर उनकी अच्छी तरह देखभाल करें। 

– मंगल देव की कृपा पाने के लिए उनका व्रत एक बहुत कारगर उपाय है। मंगल देव की शुभता पाने के लिए कम से कम 21 या 45  मंगलवार व्रत रखना चाहिए। साथ ही ‘ॐ अं अंगारकाय नमः’ की 3, 5, या 7 माला जप करना चाहिए। ध्यान रहे कि इस व्रत में नमक का प्रयोग बिल्कुल न करें। मंगल देव के इस व्रत से कर्ज से मुक्ति और संतान का सुख प्राप्त होता है।

– मंगल को मनाने के लिए उनकी प्रिय वस्तुओं जैसे लाल मसूर की दाल, लाल कपड़े का दान करना चाहिए।

– मंगलवार के दिन बाल और नाखून न काटें। 

– चूंकि मंगल को भूमिपुत्र माना गया है ऐसे में मंगलवार के दिन मिट्टी खोदने की मनाही है। ऐसे में आज के दिन गमले, खेत, मैदान आदि में मिट्टी खोदने से बचें।

– मंगलवार के दिन बर्तन और श्रृंगार का सामान न खरीदें। 

– मंगलवार के दिन सुई, कैंची, कील, चाकू आदि खरीदने से बचें, क्योंकि ऐसा करने पर उसके नकारात्मक परिणाम मिलते हैं। 

loading...
Loading...

Related Articles