लखनऊ

थाने में न्याय न मिलने से आहत युवक पानी की टंकी पर चढ़ा

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के पीजीआई थाना क्षेत्र में उस वक्त अफरा तफरी मच गई जब एक युवक थाना पर सुनवाई ना होने के बाद कई फुट ऊँची पानी की टंकी पर चढ़ गया। पानी की टंकी पर चढ़कर युवक कूदकर जान देने की धमकी दे रहा था। युवक के पानी की टंकी पर चढ़ने की सूचना मिलते ही पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए। आनन-फानन में सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और उसे मनाने का प्रयास करती रही, लेकिन वह नीचे उतरने को एकदम तैयार नहीं था। जब घंटों बाद तक वह नीचे नहीं उतरा तो उसे कार्रवाई का आश्वासन दिया गया तब वह नीचे उतरा। युवक के टंकी पर चढ़ने से आसपास भारी संख्या में लोगों की भीड़ इकट्ठी हो गई। युवक के उतरने के बाद सभी ने राहत की सांस ली। फिलहाल पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी पूरे मामले की तफ्तीश में जुटे हुए थे। युवक को उसके घर भेज दिया गया है।

जानकारी के अनुसार, घटना पीजीआई थाना क्षेत्र की है। यहां गुरुवार की सुबह एक युवक पानी की टंकी पर चढ़ गया। वृंदावन कॉलोनी सेक्टर 5 में स्थित पानी की टंकी पर चढ़ने वाले व्यक्ति का नाम विजय कुमार पुत्र स्व. रामभरोसे निवासी ग्राम रामटोला खरिका है। उसके मकान पर लोगों ने मारपीट कर बल पूर्वक कब्ज़ा कर लिया गया। पीड़ित ने बताया कि जब वह पुलिस से शिकायत करने थाना गया तो कोई सुनवाई नहीं हुई। पीड़ित थाने के चक्कर काटता रहा लेकिन पुलिस ने कोई सुनवाई नहीं की। इससे आहत होकर पीड़ित पानी की टंकी पर न्याय मांगने के लिए चढ़ गया। पानी की टंकी पर चढ़ने की सूचना मिलते ही पुलिस महकमे में खलबली मच गई। आनन-फानन में पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे और वह युवक को नीचे उतरवाने की कोशिश में जुटे रहे। हालांकि उसका कहना था कि उसकी मांगे जब तक नहीं मानी जाएंगी तब तक वो नहीं उतरेगा और वह टंकी से कूदने की धमकी भी दे रहा था। हालांकि पुलिस के आश्वासन के बाद वह नीचे उतरा तो सभी ने राहत की साँस ली।
loading...
Loading...

Related Articles