Main Sliderअन्य राज्य

पुलिस ने 15 साल बाद 20 हजार के इनामी मुर्दे को गिरफ्तार किया


फतेहपुर। उत्तर प्रदेश की फतेहपुर पुलिस ने एक ऐसे हत्यारे व्यक्ति को गिरफ्तार किया है जो पिछले 15 साल से मुर्दा बनकर महाराष्ट्र में छिपकर रह रहा था। पकड़े गए आरोपी पर अपने ही गांव के एक व्यक्ति की गला काटकर हत्या करने का आरोप है। आरोपी ने मृतक के जिस हाथ में उसका नाम गुदा था उसे काटकर यमुना नदी में फेंक दिया था, ताकि कोई पहचान ना कर पाए। इतना ही नहीं पुलिस से बचने के लिए आरोपी ने मृतक को अपने कपड़े पहनाकर शव को कुएं में फेंक दिया था। फिलहाल पुलिस ने गड़े हुए मुर्दे को ढूंढ निकाला और सलाखों के पीछे भेज दिया।

महाराष्ट्र में रहकर बनाई करोड़ों की सम्पत्ति
एसपी ने बताया कि जिला के ललौली थाना क्षेत्र के कोर्राकनक गाँव में 2003 में सर और हाथ कटा हुआ शव मिला था। जिसकी शिनाख्त पुलिस ने कपड़ों के आधार पर छोटेलाल के नाम पर किया था। लेकिन पुलिस ने सवनिया की गुमशुदगी दर्ज कर उसकी तलाश कर रही थी।वर्ष 2016 में अचानक मृत छोटेलाल के जिन्दा होने की सूचना मिली। जिनके बाद थाने में मृतक छोटेलाल के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर बीस हजार का इनाम घोषित कर दिया। जिसने महाराष्ट्र में रहकर करोड़ों की सम्पत्ति बना रखी थी। जिसे पकड़कर खुलासा कर दिया गया है।

जिंदा होने की खबर के बाद से ढूंढ रही थी पुलिस
एसपी ने बताया कि मृतक से जब इस बारे में बात की तो उसका कहना था कि मृतक मामा द्वारा अक्सर झूठे मुकदमे में फंसाकर महीने में 20 दिन थाने में बैठा ले जाने से आजिज़ आकर उसकी हत्या कर यह नाटक किया था। दो साल पहले आरोपित छोटेलाल के जिन्दा होने की बात सामने आई तो पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया था। पुलिस ने मृतक मामा सवनिया के परिजनों की तहरीर पर हत्या का मुकदमा दर्ज करते हुए बीस हजार का इनाम घोषित कर दिया और पुलिस टीम बनाकर हत्यारे की गिरफ़्तारी के लिए महाराष्ट्र में खाक छानती रही। पुलिस को जब हत्यारे का सुराग लगा तो वह भागने की फ़िराक में था। लेकिन पुलिस ने उसे घेराबंदी करके दबोचकर जेल भेज दिया।

loading...
Loading...

Related Articles