दबंग कैदियों के सामने असहाय दिखा जेल प्रशासन

सीओ सिटी एसडीएम सदर की कड़ी मशक्कत के बाद खत्म किया आंदोलन*
हरदोई-०5 अगस्त  जिला जेल में आज उस वक्त समय अफरा तफरी मच गई जब लगभग 12 बजे सभी कैदियों ने खाना लेने से इंकार कर दिया और भूख हड़ताल की घोषणा कर दी । सभी 20 बैरिकों के कैदियों की जिद के आगे जेल प्रशासन असहाय हो गया और इमरजेंसी सायरन बजाया गया, जिस पर जिला प्रशासन की ओर से एसडीएम सदर आशीष सिंह व सीओ सिटी ममता कुरील के नेतृत्व में दर्जनों पुलिसकर्मी, जिसमें कई थानों की पुलिस समेत एक सैकड़ा से अधिक पुलिसकर्मी जिला जेल में दाखिल हुए।
2 घंटे की मशक्कत के बाद दोनों अधिकारियों के समझाने के बाद भोजन वितरण सामान्य हो सका इस संबंध में जब अधिकारियों से पूछताछ की तो उन्होंने गोलमोल जवाब दिया विशेष सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक जिला जेल में कुछ दबंग अपराधियों का तबादला अन्यत्र जेल में किया गया है इसी कड़ी में 3 अगस्त को संडीला तहसील निवासी फहत को भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच फतेहगढ़ जेल ट्रांसफर किया गया है बताते हैं कि जिन अन्य तीन लोगों को अन्य जेलों में जाना है उसमें बिलग्राम  के ब्लाक प्रमुख कप्तान सिंह यादव के पुत्र गुड्डू यादव का भी नाम सामने आया उसके बाद आज जब कैदियों को भोजन के लिए पाकशाला के पास एकत्रित किया गया तो नारेबाजी करने लगे और खाना लेने से लिए मना कर दिया गुड्डू के रसूख का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि जेल में कैदियों पर उसकी कितनी जबरदस्त पकड़ है कि  जेल के अधिकारी और जेल पुलिस को कैदियों के सत्याग्रह के आगे नतमस्तक होना पड़ा और उसे मदद के लिए जिला प्रशासन से गुहार लगानी पड़ी प्राप्त जानकारी के मुताबिक एक भाजपा विधायक के करीबी कुलदीप यादव भी जिला जेल में बंद है जिससे गुड्डू यादव की वर्चस्व को लेकर 1 सप्ताह पहले कहा सुनी हो गई थी कहते हैं गुड्डू के जेल से स्थानांतरण  को लेकर भाजपा विधायक की पैरवी से भी जोड़ा जा रहा है कुल मिलाकर 2 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद लगभग 15 सौ कैदियों के भोजन ग्रहण करने की बात एसडीएम और सी०ओ० के प्रयास पर  स्वीकार की प्रमुख दोनों अधिकारियों से जब पत्रकारों ने पूछा तो उन्होंने सामान्य घटना बताते हुए किनारा कर लिया कुल मिलाकर यह प्रकरण शहर  समेत पूरे जिले में चर्चा का विषय बना हुआ है ।
=>