कई समझौतों पर लगी मुहर…

नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने गुरुवार को मारीशस में भारत के सहयोग से बनी सामाजिक आवास इकाइयों की परियोजना का अपने समकक्ष प्रविंद जगन्नाथ के साथ संयुक्त रूप से उद्घाटन किया। वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से आयोजित एक समारोह में प्रधानमंत्री मोदी ने इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि मारीशस पहला देश था जिसको भारत ने वैक्सीन मैत्री के तहत कोविड-19 रोधी टीके भेजे थे।

दोनों नेताओं ने मारीशस में आठ मेगावाट की सोलर पीवी फार्म और सिविल सर्विस कॉलेज परियोजनाओं की भी शुरुआत की। इनको भारत की मदद से चलाया जा रहा है। इस मौके पर मेट्रो एक्सप्रेस परियोजना और अन्य बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के लिए भारत से मरीशस को 19 करोड़ अमेरिकी डालर की कर्ज सुविधा (Line of Credit) देने पर समझौता किया गया। इस कार्यक्रम में विकास की छोटी परियोजनाओं के कार्यान्वयन पर समझौता ज्ञापन यानी एमओयू साइन हुए।

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा कि मारीशस पहला देश था जिसे भारत ने वैक्सीन मैत्री के तहत कोविड-19 रोधी वैक्‍सीन भेजी थी। आज इस बात की बेहद खुशी है कि मारीशस उन देशों में है जिन्‍होंने अपनी तीन-चौथाई आबादी का पूरी तरह टीकाकरण कर दिया है।

See also  बिहार: नीतीश कुमार वापस जाओ, के नारे के बीच बहुमत सावित, 131 पक्ष में तो 108 विपक्ष में पड़े वोट