UKADD
Thursday, October 21, 2021 at 7:13 PM

आतंकियों से मुठभेड़ में वीरगति को प्राप्त हुए सारज सिंह की पार्थिव देह उनके गांव ले जाई गई

बरेली । 11 अक्टूबर को आतंकियों से मुठभेड़ में वीरगति को प्राप्त हुए सारज सिंह की पार्थिव देह गुरुवार सुबह उनके गांव ले जाई गई। जहां उन्हें अंतिम विदाई देने के लिए जनसैलाब उमड़ पड़ा। आंसुओं के साथ पाकिस्तान मुर्दाबाद व सारज अमर रहें के नारे लगाए। सुबह साढ़े सात बजे ओसीएफ अस्पताल में सेना के अधिकारियों ने सलामी के बाद सारज की पार्थिव देह को फूलों से सजे वाहन में रखा। वहां पर तमाम अन्य लोग भी इस वीर को श्रद्धांजलि देने पहुंचे। करीब दो घंटे बाद वाहन जैसे ही गांव पहुंचे वहां का माहौल भावुक हो गया। ताबूत का वाहन से उतारने के बाद जैसे ही उसे खोला गया। सारज के अंतिम दर्शन के लिए भीड़ उमड़ पड़ी।

मां परमजीत कौर व उनकी पत्नी रजविंदर कौर का हाल सबसे ज्यादा खराब था। सारज के चेहरे पर अपना चेहरा रखकर दोनों काफी देर बिलखती रहीं। लोगों में सारज के बलिदान का गर्व है तो पाकिस्तान के प्रति आक्रोश भी। सेना व पुलिस के अधिकारियों को भीड़ को संभालना मुश्किल हो रहा है।