UKADD
Saturday, October 16, 2021 at 11:31 AM

चोर ने लिखा SDM को पत्र, जब पैसे नहीं थे तो लॉक भी नहीं करना था कलेक्टर

देवास: मध्य प्रदेश के देवास में चोरी की एक अनोखी घटना सामने आई है। चोरों ने देवास में एसडीएम के घर में चोरी की घटना को अंजाम दिया । मगर चोरों के हाथ कुछ ना तो कुछ कीमती सामान लगा और ना ही पैसा। जिसके चलते चोर का गुस्सा फूट पड़ा। उससे जाते जाते एसडीएम के नाम एक नोट छोड़ दिया। जिसमें चोर ने लिखा है कि जब पैसे नहीं थे तो लॉक क्यों लगाया कलेक्टर।

देवास में SDM के घर में चोरी
सोशल मीडिया पर यह चिट्ठी अब वायरल है। देवास में SDM के घर में चोरीचोरी की यह वारदात खातेगांव के डिप्टी कलेक्टर त्रिलोचन सिंह गौड़ के देवास स्थित मकान पर हुई। उनका यह निवास सिविल लाइंस में स्थित है। डिप्टी कलेक्टर का घर 15-20 दिनों से सूना पड़ा हुआ था। चोरों ने इस बात का फायदा उठाते हुए वारदात को अंजाम दिया। शनिवार को जब एसडीएम आवास में लौटे तो उन्होंने ताला टूटा देखा। पुलिस को सूचना दी, तभी कुर्सी पर उन्हीं की डायरी और पेन का उपयोग कर एक पन्ना मिला। जिसमें लिखा था, “जब पैसे नहीं थे तो लॉक भी नहीं करना था कलेक्टर।

बदमाश जाते-जाते डिप्टी कलेक्टर के नाम चिट्ठी भी लिख कर गए

शायद चोर को उम्मीद थी कि सरकारी अधिकारी के आवास में उसे जमकर नगदी और ज्वेलरी मिलेगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ जिससे नाराज होकर उसने पत्र लिख डाला। घर के पूरे सामान को बिखेरने और तलाशने के बाद भी चोरों के हाथ केवल 30 हजार रुपए ही लगे। बदमाश जाते-जाते डिप्टी कलेक्टर के नाम चिट्ठी भी लिख कर गए कि घर में पैसा नहीं रखते तो ताला क्यों लगाते हो कलेक्टर।

चोरी की घटना ने पुलिस को सकते में डाल दिया
डिप्टी कलेक्टर के घर हुई चोरी की घटना ने पुलिस को सकते में डाल दियाडिप्टी कलेक्टर त्रिलोचन गौड़ का मकान बेहद की हाईप्रोफाइल इलाके में है। उनके पड़ोस में सांसद का बंगला, वहीं दूसरी ओर में देवास एसडीएम प्रदीप सोनी का बंगला है। इनके मकान से महज 100 मीटर की दूरी पर एसपी का बंगला भी स्थित है।

वारदात को अंजाम देने वाले बदमाश प्रोफेशनल माने जा रहे हैंवारदात को अंजाम देने वाले बदमाश प्रोफेशनल माने जा रहे हैं, क्योंकि वह घर से नकदी और चांदी के जेवरात को छोड़कर अन्य कोई सामान नहीं ले गए। घटना के बाद पुलिस अफसरों ने मौके पर पहुंच घर का मुआयना किया। पुलिस ने इलाके के सीसीटीवी फुटेज की मदद से जांच शुरू कर दी है। वहीं, पुलिस ने अज्ञात चोरों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।