Monday, December 6, 2021 at 5:51 AM

फ्लाइट में सफर के दौरान फोन पर कर सकेंगे बात

नई दिल्ली: अब मोबाइल में ‘फ्लाइट मोड’ ऑप्शन गुजरे जमाने की बात होने जा रही है. क्योंकि अब आप फ्लाइट में भी आप हाई स्पीड इंटरनेट यूज कर सकेंगे. यानी कि फ्लाइट में बैठे-बैठे ही ई-मेल से लेकर जरूरी काम निपटा सकेंगे. इतना ही नहीं उड़ान के दौरान आप कॉल भी कर सकेंगे.

पब्लिक सेक्टर की टेलीकॉम कंपनी बीएसएनल को देश में इनमारसैट के ग्लोबल एक्सप्रेस मोबाइल ब्रॉडबैंड सर्विसेज के लिए लाइसेंस मिल गया है. इससे इनमारसैट टर्मिनल का उपयोग कर एयरलाइन के लिये उड़ानों के दौरान और समुद्री जहाजों को हाई स्पीड नेट की सुविधा दी जा सकेगी. ब्रिटेन की मोबाइल सैटेलाइट कम्युनिकेशन कंपनी इनमारसैट के मैनेजमेंट डायरेक्टर गौतम शर्मा ने कहा कि स्पाइसजेट और शिपिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया पहले ही नई जीएक्स सर्विस के लिये एग्रीमेंट कर चुके हैं. इससे 50 एमबीपीएस की स्पीड मिल सकेगी.

गौतम शर्मा के मुताबित, जीएक्स सेवा की शुरुआत के साथ इंडियन डॉमेस्टिक एयरलाइंस और इंटरनेशनल एयरलाइन कंपनियां देश के ऊपर से उड़ान के दौरान हाई स्पीड नेट की सुविधा दे सकेंगी. इनमारसेट द्वारा जारी बयान में स्पाइसजेट ने कहा कि वह इस साल के अंत तक नये बोइंग 737 मैक्स प्लेन पेश करने के साथ अपने यात्रियों को जरूरी कम्युनिकेशन सर्विस देने के लिए तैयार है. बयान के अनुसार बीएसएनएल को दूरसंचार विभाग से मिले फ्लाइट और आईएफएमसी के तहत जीएक्स सेवाएं सभी भारतीय ग्राहकों के लिये उपलब्ध होंगी.

इंडियन एयरलाइन कंपनियां देश और विदेश में उड़ान के दौरान कम्युनिकेशन सुविधा के लिये जीएक्स का उपयोग कर सकेंगी. साथ ही इससे भारतीय सी एरिया में काम करने वाली देश की कमर्शियल कंपनियां जहाजों के बेहतर संचालन और क्रू मेंबर्स से जुड़ी सर्विसेज के लिए अपने जहाजों में डिजिटलाइजेशन को बढ़ाने में कामयाब होंगी. बीएसएनएल के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक पी के पुरवार ने कहा कि इस सर्विस के लिये फीस अभी तय नहीं की गई है. बीएसएनएल नवंबर से इन सेवाओं को शुरू कर सकता है.