जौनपुर: शाहगंज रेलवे स्टेशन पर टूटी पटरी मिलने से मची खलबली

जौनपुर। उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिला में हरचंदपुर रेलवे स्टेशन के निकट न्यू फरक्का एक्सप्रेस के नौ डिब्बे इंजन सहित अचानक पटरी से उतर गए थे। इस सूचना पर उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल में हड़कंप मच गया था। इस ट्रेन हादसे में पांच लोगों की मौत जबकि 40 से अधिक यात्री घायल हुए थे। इस दौरान इस रूट की सभी ट्रेने रोक ली गई, इससे रेलमार्ग बाधित हो गया था। दिनभर इस मार्ग से ट्रेन के डिब्बों को हटाने का काम चला। अब ये मार्ग दुरुस्त हो सका। इस घटना के एक दिन बाद ही जौनपुर जिला में पटरी टूटी मिलने से हड़कंप मच गया। आनन-फानन में रेलवे कर्मचारी मौके पर पहुंचे और पटरी को दुरुस्त किया।

जानकारी के मुताबिक, घटना जौनपुर के शाहगंज रेलवे स्टेशन के पार्सल के पास की है। यहां गुरुवार सुबह गैंगमैन ने पटरी टूटी देखी तो अधिकारियों को इसकी सूचना दी। सूचना मिलते ही रेलवे महकमे में खलबली मच गई। आरपीएफ कांस्टेबल श्याम सुंदर ने इसकी जानकारी तुरंत स्टेशन मास्टर को दी। उसी समय किसान एक्सप्रेस के आने का समय हो चुका था, जिसे तुरंत प्लेटफार्म नंबर दो पर लाया गया। रेलवे कर्मचारी मरम्मत कार्य में जुटे। इसके साथ ही इंजीनियरिंग विभाग की टीम मौके पर पहुंच पटरी को दुरुस्त करने में जुट गई थी। फिलहाल रेलवे ट्रैक को दुरुस्त कर लिया गया है। कर्मचारियों का कहना था कि समय से टूटी पटरी पर नजर पड़ गई नहीं तो बड़ा हादसा हो सकता था।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिला में हरचंदपुर रेलवे स्टेशन के निकट उस समय यात्रियों में दहशत मच गई जब न्यू फरक्का एक्सप्रेस के छह डिब्बे इंजन सहित अचानक पटरी से उतर गए। सूचना पर उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल में हड़कंप मच गया था। हरचंदपुर रेलवे स्टेशन के निकट ट्रेन नंबर 14003 न्यू फरक्का एक्सप्रेस के इंजन सहित नौ डिब्बे (चार जनरल कोच और चार स्लीपर S-10, S-9, S-8, S-7) अचानक पटरी से उतर गए थे। एनडीआरएफ के अधिकारी ने बताया कि रेस्क्यू ऑपरेशन दोपहर को ही पूरा हो चुका था। ट्रेन की बोगियों को फाइनल सर्च करा लिया गया, बोगियों में या बोगियों के नीचे कोई भी यात्री नहीं था।

=>
loading...
WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
E-Paper